scriptseasonal desease | उठो जागो..अपने नजदीक सफाई का ध्यान रखोगे तो 50 फीसदी कम हो जाएगी मच्छरजनित बीमारियां | Patrika News

उठो जागो..अपने नजदीक सफाई का ध्यान रखोगे तो 50 फीसदी कम हो जाएगी मच्छरजनित बीमारियां

विश्व मलेरिया दिवस आज

जयपुर

Published: April 25, 2022 04:56:13 pm

जयपुर. 100 साल से भी अधिक समय से हमारी सरकारें मच्छर जनित बीमारियों पर काबू पाने के प्रयास करती आ रही हैं, लेकिन आज भी मच्छर हर साल कई जिंदगियां लील रहे हैं। सरकारी दावों के मुताबिक राजस्थान में अब मलेरिया नियंत्रण में है, लेकिन सच्चाई यह है कि हर साल करोड़ो रुपए खर्च करने के बावजूद आज भी मच्छर जनित बीमारियां आबादी के लिए खतरा बनी हुई है। जिसका बड़ा कारण मच्छरों को पनपने से रोकने में नाकामी है। 100 साल से भी अधिक समय से प्रयास किए जाने के बाद भी यह बीमारी जस की तस बनी हुई है।
maleriya.jpg
गत वर्षों में इनमें भी नया ट्रेंड देखा जा रहा है। डेंगू, चिकनगुनिया, स्क्रब टायफस आदि बीमारियां वर्ष के शुरुआत से अंत तक देखने को मिल रही है। जबकि इन्हें बारिश के मौसम में होने वाली बीमारियां माना जाता था।
बारिश आई नहीं, उससे पहले सक्रिय हुआ मच्छर

इस साल बारिश का दौर थमने से पहले ही सरकारी आंकड़ों में मच्छर जनित बीमारी डेंगू के करीब 500 मामले दर्ज हो चुके हैं। मलेरिया के अब तक 12 केस मिले हैं। दुनिया की बात करें तो हर साल इनसे होने वाली बीमारियों के हमले से हर साल हजारों लोग शिकार होते हैं। अभी बारिश शुरू भी नहीं हुई और राजधानी डेंगू के केस 150 पार हो चुके हैं। नगर निगम हैरिटेज और ग्रेटर नगर निगम की सरकार सक्रिय नहीं है। निगम की स्वास्थ्य शाखा के चिकित्सकों के अनुसार अभी उन्हें चिकित्सा विभाग की गाइडलाइन का इंतजार है। हालांकि कुछेक स्थानों पर स्प्रे कराए गए हैं।

मच्छर पनपने के बड़े कारण

. स्थानीय प्रशासन की ओर से मच्छर नियंत्रण के इंतजामों की कमी, गंदगी, जमा पानी और साफ सफाई का अभाव
. आमजन में जागरुकता की कमी
. इलाज से पहले इन मच्छरों के उन्मूलन पर कार्य नहीं किया जाता, जबकि इनसे प्रतिवर्ष जूझना पड़ रहा है
. लोग घरों के आस—पास डंपिंग जोन बना लेते हैं, जहां नियमित कचरा नहीं उठाने से कचरे के ढेर लगे
. नालियों की समय पर सफाई नहीं, जिससे उनमें गंदा पानी जमा रहता है। इससे वहां मच्छर पनपते हैं।
. सालाना आने वाली इस मुसीबत से निपटने के लिए जनप्रतिनिधियों क अहम भूमिका हो सकती है, लेकिन यह नजर नहीं आती।

...

इस साल अब तक इतने मिले रोगी

राज्य
डेंगू 467
मलेरिया 12
चिकनगुनिया 49

जयपुर जिला

बीमारी 2019 2020 2021 2022
स्क्रब टायफस 395 283 423 43
मलेरिया 38 3 4 0
डेंगू 3731 574 4074 154
चिकनगुनिया 355 478 324 13
स्वाइन फ्लू 2225 56 9 0
..

हम अपने घर व कार्यस्थल के आस पास सफाई रखकर, गंदा या साफ ठहरने की स्थितियों को दूर कर मच्छरजनित बीमारियों का खतरा 50 प्रतिशत तक कम कर सकते हैं। सरकार तो प्रयास हर साल करती ही है। आमजन की भागीदारी भी बढ़ जाए तो यह मुहीम और आसान हो सकती है।
डॉ.अशोक गुप्ता, शिशु रोग विशेषज्ञ
...

140 साल से कोशिशें, अब भी नियंत्रण नहीं

विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा 2008 से प्रतिवर्ष 25 अप्रैल को मलेरिया के प्रति जागरूकता के लिए मलेरिया दिवस मनाया जाता है
सोचने की बात है की 1880 में मलेरिया पर पहला अध्ययन किया गया, लेकिन आज वर्ष 2022 तक हम इस पर पूरी तरह से नियंत्रण नहीं पा सके हैं। बरसात का दौर थमने के साथ ही प्रदेश की लैबों पर मच्छर जनित बीमारियों का भार बढ़ता जाता है।
जितेन्द्र सिंह, अध्यक्ष लैब टेक्नीशियन संघ
यह बोली निगम की अधिकारी

ग्रेटर नगर निगम की मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी डॉ रश्मि कांकरिया ने बताया कि जल्द ही टीमें बनाकर सतत फोगिंग कराई जाएगा। वहीं, हैरिटेज निगम की मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सोनिया अग्रवाल ने बताया कि अभी शिकायतों का निस्तारण स्प्रे करवाकर किया जा रहा है। आने वाले दिनों में अभियान चलाया जाएगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

राष्ट्रीय खेल घोटाला: CBI ने झारखंड के पूर्व खेल मंत्री के आवास पर मारा छापामहंगाई पर आज केंद्र की बड़ी बैठक, एग्री सेस हटाने और सीमेंट के दाम कम करने पर रहेगा जोरPM Modi in Hyderabad: KCR पर मोदी का इशारों में वार, परिवादवाद को बताया लोकतंत्र का दुश्मनUP Budget: युवाओं के रोजगार-व्यापार के लिए Yogi ने बनाया स्पेशल प्लान, जानिए कैसे मिलेगी नौकरी'8 साल, 8 छल, भाजपा सरकार विफल...' के नारे के साथ मोदी सरकार पर कांग्रेस का तंजसुप्रीम कोर्ट ने सेक्स वर्क को भी माना प्रोफेशन, पुलिस नहीं करेगी परेशान, जारी किए निर्देशमोदी सरकार के 8 साल पूरे; नोटबंदी, एयर स्ट्राइक, धारा 370 खत्म करने सहित सरकार के 8 बड़े फैसलेआयकर विभाग के कर्मचारी ने तीन- तीन लाख रुपए में बेचे कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के पेपर, शिक्षिका पत्नी के खाते में किए ट्रांसफर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.