scriptSecond day of bank strike, even today important work will be stuck | second day of the strike: बैंक हड़ताल का दूसरा दिन, आज भी अटकेंगे जरूरी काम | Patrika News

second day of the strike: बैंक हड़ताल का दूसरा दिन, आज भी अटकेंगे जरूरी काम

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ( public sector banks ) के लाखों कर्मचारियों ने सरकारी बैंकों के निजीकरण ( privatization ) के विरोध में मंगलवार को अपनी हड़ताल जारी रखी। हड़ताल का यह दूसरा दिन है और इससे देश भर में इन बैंकों का कामकाज प्रभावित हो रहा है।

जयपुर

Updated: March 29, 2022 09:20:36 am

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के लाखों कर्मचारियों ने सरकारी बैंकों के निजीकरण के विरोध में मंगलवार को अपनी हड़ताल जारी रखी। हड़ताल का यह दूसरा दिन है और इससे देश भर में इन बैंकों का कामकाज प्रभावित हो रहा है। केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ कामगार संगठनों ने हड़ताल रखी, जिसे बैंकिंग संगठन भी अपना समर्थन दे रहे है। बैंक में पहले ही माह के चौथे शनिवार के कारण 26 मार्च को कामकाज बंद था। इसके बाद 27 मार्च को रविवार का अवकाश था और अब सोमवार तथा मंगलवार को भी बैंकों का कामकाज ठप रहा, जिससे आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। हड़ताल व बैंकों की बंदी के चलते बैंकिंग, परिवहन, रेलवे, रक्षा व बिजली आपूर्ति पर असर पड़ा है। संयुक्त मंच में आईएनटीयूसी, एआईटीयूसी, एचएमएस, सीआईटीयू, एआईयूटीयूसी, टीयूसीसी, एसईडब्ल्यूए, एआईसीसीटीयू, एलपीएफ और यूटीयूसी शामिल हैं।
बैंकों के निजीकरण का विरोध
राजस्थान प्रदेश बैंक एम्पलाइज यूनियन के महासचिव महेश मिश्रा ने बताया की केंद्रीय श्रमिक संगठनों के साथ जुड़ी 12 सूत्री मांगों का समर्थन करते हैं हुए बैंकों एवं बैंक कर्मचारियों से जुड़ी मांगों को लेकर ऑल इंडिया बैक एम्पलाइज एसोसिएशन, बैंक एम्पलाइज फेडरेशन ऑफ इंडिया तथा बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन ने बैंकों का निजीकरण नहीं किए जाने, पुरानी पेंशन योजना बहाल किए जाने, बैंक की डूबत ऋण राशि वसूल किए जाने तथा बैंकों में स्थाई भर्ती किए जाने के साथ ठेका कर्मचारियों को स्थाई किए जाने आदि मांगों को लेकर हड़ताल में शामिल हुए। मिश्रा ने बताया कि प्रदेश की 4000 शाखाओं में कार्यरत 20,000 से भी ज्यादा अधिकारी व कर्मचारी इस हड़ताल में शामिल हुए। हड़ताल में ग्रामीण बैंक व सहकारी बैंकों के कर्मचारी व अधिकारियों को भी शामिल किया गया है।
बंद का दिखा आंशिक असर
हड़ताल में बैंक और बीमा क्षेत्र समेत अन्य क्षेत्रों के कामगार संघ और रेलवे व रक्षा क्षेत्र की यूनियनों के भी हड़ताल के समर्थन में इन क्षेत्रों में कामकाज प्रभावित हुआ, जिससे आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
ये हैं मांगे
कामगार संघों की मांगों में श्रम कानूनों में प्रस्तावित बदलावों को खत्म करने के साथ ही निजीकरण और सरकारी संपत्तियों की बिक्री प्रक्रिया पर रोक लगाना शामिल है। साथ ही मनरेगा के तहत काम करने वालों के लिए आवंटन बढ़ाने की मांग भी शामिल है।
second day of the strike: बैंक हड़ताल का दूसरा दिन, आज भी अटकेंगे जरूरी काम
second day of the strike: बैंक हड़ताल का दूसरा दिन, आज भी अटकेंगे जरूरी काम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

Amarnath Yatra: सभी यात्रियों का 5 लाख का होगा बीमा, पहली बार मिलेगा RIFD कार्ड, गृहमंत्री ने दिए कई अहम निर्देशवाराणसी कोर्ट में का फैसला: अजय मिश्रा कोर्ट कमिश्नर पद से हटे, सर्वे रिपोर्ट पर सुनवाई 19 मई को, SC ने ज्ञानवापी पर हस्तक्षेप से किया इंकारCBI Raid के बाद आया केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम का बयान - 'CBI को रेड में कुछ नहीं मिला, लेकिन छापेमारी का समय जरूर दिलचस्प'Rajya Sabha polls: कौन है संभाजी राजे जिनको लेकर महाविकस आघाडी और बीजेपी में बढ़ा आंतरिक मतभेदकोरोना के कारण गर्भपात के केस 20% बढ़े, शिशुओं में आ रही विकृतिConsumer Court का फैसला : पार्किंग के सात रुपए वसूले थे अवैध, अब निगम और ठेकेदार भुगतेंगे 8-8 हजारAssam Flood: असम में बारिश और बाढ़ से भीषण तबाही, स्टेशन डूबे, पानी के बहाव में ट्रेन तक पलटीWest Bengal Coal Scam: SC ने ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक और रुजिरा की गिरफ्तारी पर रोक लगाई, दिल्ली की बजाय कोलकाता में पूछताछ करेगी ED
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.