scriptSelling drugs to foreigners in Pushkar pilgrimage, cattle hungry | पुष्कर तीर्थ में विदेशियों को बेच रहे नशा, निराश्रित गोवंश भूखा-प्यासा : संत दिनेशगिरी | Patrika News

पुष्कर तीर्थ में विदेशियों को बेच रहे नशा, निराश्रित गोवंश भूखा-प्यासा : संत दिनेशगिरी

locationजयपुरPublished: Feb 24, 2023 01:20:25 am

Submitted by:

Gaurav Mayank

गोपालक संतों ने गहलोत सरकार को गो रक्षा पर उठाए गए कदमों के लिए क्लीन चिट दी। गोसेवा समिति प्रदेशाध्यक्ष संत दिनेशगिरी ने कहा कि राजस्थान देश का पहला राज्य है, जहां गायों के संरक्षण के लिए गोपालन विभाग बनाया गया है। हालांकि संत दिनेश गिरी ने कहा कि पुष्कर तीर्थ में विदेशियों को नशा बेचा जा रहा है, लेकिन निराश्रित गोवंश भूखा व प्यास है। इसकी अलख जगाने के मकसद से ही गो पदयात्रा का आयोजन किया जा रहा है।

पुष्कर तीर्थ में विदेशियों को बेच रहे नशा, निराश्रित गोवंश भूखा-प्यासा : संत दिनेशगिरी
पुष्कर तीर्थ में विदेशियों को बेच रहे नशा, निराश्रित गोवंश भूखा-प्यासा : संत दिनेशगिरी

जयपुर। पुष्कर में राम स्नेही गार्डन में गो संरक्षण पर एक दिवसीय सम्मेलन में गोपालक संतों ने गहलोत सरकार को गो रक्षा पर उठाए गए कदमों के लिए क्लीन चिट दी। गोसेवा समिति प्रदेशाध्यक्ष संत दिनेशगिरी (Goseva Samiti State President Saint Dineshgiri) ने कहा कि राजस्थान (Rajasthan) देश का पहला राज्य है, जहां गायों के संरक्षण के लिए गोपालन विभाग (Gopalan Department for the protection of cows rajasthan) बनाया गया है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2008 में समिति ने इसकी कल्पना की थी जो अब साकार हुई है। समिति उपाध्यक्ष संत रघुनाथ भारती ने कहा कि सरकार ने गोशालाओं को 9 माह का अनुदान देने की घोषणा की है।

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.