फोन पे का लिंक भेज खाते से 89 हजार रुपए उड़ाए

जयपुर. फोन पे का लिंक भेजकर एक जने के बैंक खाते से 89 हजार रुपए पार (Send a link to phone, blow 89 thousand rupees from your account) करने का मामला सामने आया है।

By: vinod sharma

Published: 23 Apr 2020, 10:28 PM IST

जयपुर. फोन पे का लिंक भेजकर एक जने के बैंक खाते से 89 हजार रुपए पार (Send a link to phone, blow 89 thousand rupees from your account) करने का मामला सामने आया है। पीड़ित ने प्राथमिकी दर्ज कराके धोखाधड़ी कर रुपए हड़पने वाले को गिरफ्तार करने की गुहार लगाई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार प्रताप नगर सेक्टर तीन निवासी युवक प्रदीप्ता कुमार मार्था के पास एक जने ने पुराना दोस्त बनकर फोन किया तथा कहा कि उसे जरूरी सामान खरीदना है। लेकिन फोन पे से रुपयों का भुगतान दुकानदार को नहीं हो रहा है। आरोपी ने लिंक ने भेजकर कहा कि वह इस लिंक को अपने नम्बर से दुकानदार को भेज देगा तो भुगतान हो सकता है। इस पर पीड़ित युवक उसके झांसे में आ गया। उसने फोन पे लिंक को खोलकर देखा। इसी दौरान उसके खाते से 89 हजार रुपए पार हो गए। बैंक से 89 हजार रुपए पार होने की सूचना का मैसेज मिलने पर उसे धोखाधड़ी का पता चला। इसके बाद पीड़ित युवक ने उसे लिंक भेजने वाले से सम्पर्क किया। लेकिन उसका मोबाइल बंद आ रहा है।

आए दिन हो रही ठगी की वारदातें
जयपुर.लॉक डाउन के दौरान अॉनलाइन ठगी की वारदातों पर अंकुश नहीं लग रहा है। आए दिन वाट्सएप पर लिंक भेजकर ठगी की वारदातें की जा रही है। वसुन्धरा कॉलोनी निवासी मुकेश कुमार के वाट्सएप नम्बर पर रात के समय एक लिंक आया था। इस लिंक को उसने खोलकर देखा। इसके कुछ देर बाद ही खाते से 50 हजार से अधिक रुपए पार होने का मैसेज आया। इससे पहले महेश नगर थाने के निवासी मनीष कुमार शर्मा और नायला रोड निवासी हनुमान प्रसाद शर्मा के फोन पे खाते से भी रुपए पार होे गए। इसकी प्राथमिकी संबंधित थानों में दर्ज करा दी गई। लेकिन पुलिस आरोपियों की गिरफ्तार दूर उनका सुराग भी नहीं लगा पाई।


सावधानी की जरूरत
अॉनलाइन ठगी की वारदातों से बचने के लिए लोगों को सावधानी की जरुरत है। अनजाने नम्बर से वाट्सएप पर आए लिंक को खोलना ही नहीं चाहिए। क्योंकि इस प्रकार के लिंक को खोलते ही रुपए पार होने की वारदात आए दिन सामने आ रही है। बदमाश गिरोह के रुप में वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। इसी प्रकार फोन पे या अन्य के पासवर्ड के बारे में किसी से बातचीत नहीं करनी चाहिए। कुछ लोग आपसी बातचीत में फोन पे का पासवर्ड चुरा लेते हैं। इसके बाद बैंक खाते से रुपए उड़ाने की वारदात को अंजाम देते हैं। पुलिस व बैंक के अधिकारी बार-बार निर्देश जारी करते रहते है कि बैंक एटीएम या फोन पे तथा अन्य की जानकारी वे कभी नहीं मांगते हैं। इस कारण मांगने पर किसी अन्य को नहीं बताए। इसके बाद भी लोग ठगी का शिकार हो रहे हैं।

vinod sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned