सात महीने गुजरे लेकिन नहीं मिला बकाया वेतन

दीपावली के त्योहार ( festival of Deepawali ) के बाद एक बार फिर से कर्मचारी संगठन ( employee organizations ) वेतन कटौती के आदेश वापस लेने ( withdrawal of the pay cut order ) के साथ ही स्थगित किए गए वेतन का भुगतान करने की मांग को लेकर एक्टिव हो गए हैं।

By: Ashish

Published: 17 Nov 2020, 04:04 PM IST

जयपुर

दीपावली के त्योहार ( festival of Deepawali ) के बाद एक बार फिर से कर्मचारी संगठन ( employee organizations ) वेतन कटौती के आदेश वापस लेने ( withdrawal of the pay cut order ) के साथ ही स्थगित किए गए वेतन का भुगतान करने की मांग को लेकर एक्टिव हो गए हैं। स्थगित किए गए वेतन को सात महीने गुजर चुके हैं लेकिन अभी तक कर्मचारियों को इस वेतन का भुगतान नहीं मिला है। कोरोना संकट के चलते राज्य सरकार ने मार्च महीने में कर्मचारियों का 16 दिन का वेतन स्थगित किया था। कर्मचारी संगठन स्थगित किए गए वेतन का भुगतान करने की मांग कर रहे हैं। अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ के प्रदेश महामंत्री तेजसिंह राठौड़ का कहना है कि मार्च महीने में 16 दिन का वेतन स्थगित किया गया था। जिसका भुगतान अभी तक नहीं करने से कर्मचारियों में असंतोष है। इसके साथ ही महासंघ की ओर से कर्मचारियों से वेतन कटौती के 2017 के आदेश को भी वापस लेने की मांग की जा रही है।

कर्मचारी नेता राजेश पारीक का कहना है कि सरकार पहले वेतन स्थगित किया फिर वेतन कटौती की। बोनस की राशि का पूरा भुगतान भी कर्मचारियों को नकद में नहीं किया गया। इससे कर्मचारियों में असंतोष है। ऐसे में सरकार को स्थगित किए गए वेतन का भुगतान कर्मचारियों को करना चाहिए। गौरतलब है कि कोरोना संकट को देखते हुए राज्य सरकार ने मार्च में महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए कार्मिकों का वेतन स्थगित किया था। राज्य के करीब आठ लाख कार्मिकों का करोड़ों रुपए का स्थगित किए गए वेतन का भुगतान अभी तक बाकी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned