शब-ए-कद्र में रात भर हुई इबादत, जुमातुलविदा कल

घरों पर ही कुरआन की तिलावत और नमाज

By: Rajkumar Sharma

Updated: 21 May 2020, 01:22 AM IST

जयपुर. रमजान मुबारक के 26 वें रोजे पर बुधवार को कई जगह शब-ए-कद्र में रातभर इबादत की गई, नमाजें अदा कर कुरआन की तिलावत की गई। लॉकडाउन के चलते लोगों ने घरों में रहकर पूरी रात इबादत में गुजारी। वहीं, मस्जिदों में आयोजन नहीं हुए मगर हाफिज लोगों को इनाम और तोहफे दिए। अकीदतमंदों ने जरूरतमंदों की मदद की। आखिरी जुमा जुमातुलविदा की नमाज शुक्रवार को अदा की जाएगी।
हेल्पिंग हैंड फाउंडेशन द्वारा भट्टा बस्ती में संचालित लाइव किचन के जरिए सैकड़ों जरूरतमंदों को रोजाना भोजन वितरित किया जा रहा है। नईम रब्बानी व महबूब ने बताया कि अब तक 40 हजार पैकेट बांटे जा चुके हैं।
शास्त्री नगर स्थित यजदानी चौक में काउंसिल राजस्थान के बैनर तले वाहिद यजदानी के नेतृत्व में जरूरतमंदों को राशन बांटा गया। रमजान में मोती डूंगरी स्थित कुरेश बिरादरी के जमात खाने व मस्जिद कुरेशियान (बड़ी मस्जिद) के सदर हाजी अब्दुल हफीज कुरैशी, सचिव ईसलामुद्दीन व मोहम्मद साबिर कुरैशी जरूरतमंदों को खाना मुहैया करवा रहे हैं। राजस्थान वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष खानू खान बुधवाली ने लॉकडाउन में घर पर रहकर इस्लामिक तरीके से रमजान के आखिरी जुमे और ईद की नमाज अदा करने की अपील की।
ईद और अन्य नमाजें घरों पर अदा करें : उस्मानी
चीफ काजी खालिद उस्मानी ने कहा कि बीते दो माह से नमाज-इबादत का सिलसिला घरों में जारी है। आगे भी यह जारी रहेगा। ईद उल फितर से पहले जुमे की नमाज के लिए उन्होंने कहा कि ईद और अन्य नमाजें घरों से करें। मास्क सेनेटाइजर का उपयोग कर सरकारी निर्देशों का पालन करें। उस्मानी ने अपील की कि घरों में रहकर चांद देखें यदि किसी को चांद दिखता है तो सूचना सेंट्रल हिलाल कमेटी को दें ताकि ईद के चांद का फैसला सामूहिक रूप से लिया जा सके।

Rajkumar Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned