Shelter Home : स्कूलों में ठहराया, लेकिन ओढ़ने—बिछाने को नहीं

पानीपेच स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय वाटर वर्क्स में पैदल चलने वालों के लिए शेल्टर होम ( shelter home ) बनाया गया है।

By: surendra kumar samariya

Published: 31 Mar 2020, 10:33 PM IST

सुरेंद्र बगवाड़ा, जयपुर

राज्य सरकार के आदेश के बाद जिला प्रशासन ने अपने घर के लिए पैदल निकले लोगों को सरकारी स्कूलों ( government school ) में ठहरा दिया है। खाने—पीने की भी पूरी व्यवस्था कर दी गई है, लेकिन उनका रात गुजारना मुश्किल हो गया।

पानीपेच स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय वाटर वर्क्स में पैदल चलने वालों के लिए शेल्टर होम ( shelter home ) बनाया गया है। यहाँ पर 60 से अधिक लोगो को रखा गया है। रुके हुए लोगों में अधिकांश उत्तर प्रदेश से है, जो राजस्थान के विभिन्न जिलों की फैक्ट्रियों में काम करते है।

उन्होंने बताया कि भोजन समाजसेवकों की और से निरंतर हो रहा है। खाने के पैकेट के साथ साथ बिस्किट, नाश्ता और मिठाई भी मिल रही है। लेकिन रात को सोने के लिए ओढने—बिछाने के लिए कुछ भी नहीं है। वहीं, एक कमरे में 15 तक लोगों को रखने से सोशल डिस्टेंसिंग नहीं रहती।

फिलहाल प्रशासन की ओर से हर स्कूल में चिकित्सक भी भेजा गया। मौके पर लोगों को तकलीफ पूछे कर दवा दी गई। जानकारी के अनुसार, इन लोगों को मेडिकल स्क्रीनिंग भी की जाएगी।

surendra kumar samariya Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned