scriptShobharani Kushwaha BJp Rajasthan Rajyasabha Election Cross Voting | Shobharani Kushwaha का जवाब...ऐसी पार्टी में कौन सा कार्यकर्ता काम करना चाहेगा | Patrika News

Shobharani Kushwaha का जवाब...ऐसी पार्टी में कौन सा कार्यकर्ता काम करना चाहेगा

राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग करके कांग्रेस के प्रमोदी तिवारी को वोट देने वाली भाजपा विधायक शोभारानी कुशवाह ने पार्टी को अपना जवाब दिया है। सोशल मीडिया पर पांच पॉइंट के माध्यम से कुशवाह ने भाजपा के वरिष्ठ नेताओं पर कई आरोप जड़े हैं।

जयपुर

Published: June 11, 2022 05:27:09 pm

राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग करके कांग्रेस के प्रमोदी तिवारी को वोट देने वाली भाजपा विधायक शोभारानी कुशवाह ने पार्टी को अपना जवाब दिया है। सोशल मीडिया पर पांच पॉइंट के माध्यम से कुशवाह ने भाजपा के वरिष्ठ नेताओं पर कई आरोप जड़े हैं। उन्होंने यहां तक लिख डाला कि पार्टी में मुझे बाहर करने की साजिश की जा रही है। उन्होंने लिखा कि मुझ पर कार्रवाई करने के लिए बहुत-बहुत आभार लेकिन बीजेपी ने जितनी तत्परता मुझे सस्पेंड करने में दिखाई है, अगर इतनी ही ईमानदारी से पार्टी के विरोध में काम करने वाले अन्य बड़े नेताओं पर भी दिखाओगे तो आम कार्यकर्ताओं को खुशी होगी। आपको बता दें कि क्रॉस वोटिंग की वजह से कुशवाह को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से छह साल के लिए निलंबित कर दिया है।

कुशवाह ने लिखा कि धौलपुर उपचुनाव के लिए मैं और मेरा कुशवाहा समाज बीजेपी के पास नहीं गए थे। बल्कि राजस्थान का कुशवाहा समाज बीजेपी के हाथ से ना निकल जाए, इसलिए भाजपा नेता खुद चलकर के आए थे। समाज के प्रदेश अध्यक्ष और जिम्मेदार 20 बुजुर्ग-युवाओं के सामने कुछ कमिटमेंट किए थे उनमें से एक भी कमिटमेंट पूरा नहीं हुआ। बीजेपी हाइकमान उन महान बड़े लोगों से पूछे जो हमारे साथ ऐसा क्यों हुआ।

भाजपा प्रत्याशी को हरवाया

कुशवाह ने धौलपुर नगर परिषद चेयरमैन चुनाव का भी जिक्र किया है। उन्होंने लिखा है कि अग्रवाल समाज के प्रदेशाध्यक्ष गिरीश गर्ग की बहू को बीजेपी की ओर से नगर परिषद चेयरमैन का प्रत्याशी बनाया गया था। हमारे पास में जीतने के लिए संख्या भरपूर थी, लेकिन बीजेपी के राष्ट्रीय नेताओं ने कांग्रेस का चेयरमैन बनवा दिया। उन बड़े नेताओं का सस्पेंड करना तो दूर की बात है उन्हें नोटिस तक नहीं दिया गया तो ऐसी पार्टी में कौन सा कार्यकर्ता या नेता काम करना चाहेगा।

प्रधान का चुनाव भी हरवाया

उन्होंने लिखा कि हाल ही में पंचायत समिति चुनाव में मैंने धौलपुर पंचायत समिति से पंचायत समिति प्रधान के लिए लोधा समाज के नवल लोधा को बीजेपी प्रधान प्रत्याशी बनाया था, लेकिन बीजेपी के राष्ट्रीय नेताओं ने जानबूझकर अपने ही कार्यकर्ताओं से उसको हरवा दिया। उन्होंने सुभाष चंद्रा को लेकर भी कुछ बातें लिखी हैं।

मुझे बाहर करने की हो रही साजिश

शोभारानी ने सबसे आखिर में लिखा है कि बीजेपी के राष्ट्रीय नेता मेरे समाज के कुछ गुलाम प्रवृत्ति के लालची लोगों को आगे करके समाज की एकता को तोड़कर 2023 के चुनावों में मुझे राजनीति से बाहर करना चाहते हैं। यह जानते है कि अगर चौथी बार यह जीतेंगे तो इनका कद राजनीति में बहुत ऊपर चला जाएगा। इसलिए यह चाहते हैं कि कोई ऐसा कुशवाहा गुलाम मिल जाए जो इनकी हां में हां मिलाता रहे और यह लोग कुशवाहा समाज के वोटों को लूटते रहे।

अब धोखा खाना मंजूर नहीं

कुशवाह ने लिखा कि अब तक मैंने मेरी कुशवाहा समाज ने और मेरे सभी सर्व समाज के कार्यकर्ताओं ने धोखा बहुत खा लिया। अब कोई हमें दोबारा से धोखा दे यह हमारे कार्यकर्ताओं को और हमें मंजूर नहीं। किसी भी नेता का वजूद उनके कार्यकर्ताओं से होता है इसलिए हमारे कार्यकर्ताओं ने खुद निर्णय लिया है कि वे खुद ऐसी पार्टी में नहीं रहना चाहते, जिसके राष्ट्रीय नेता ही अपने ही प्रत्याशियों को हराने का काम करें।
Shobharani Kushwaha का जवाब...ऐसी पार्टी में कौन सा कार्यकर्ता काम करना चाहेगा
Shobharani Kushwaha का जवाब...ऐसी पार्टी में कौन सा कार्यकर्ता काम करना चाहेगा

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Presidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे गोवा से मुंबई एयरपोर्ट पहुंचेMaharashtra Political Crisis: उद्धव के इस्तीफे पर नरोत्तम मिश्रा ने दिया बड़ा बयान, कहा- महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा का दिखा प्रभावप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSME के लिए लांच की नई स्कीम, कहा- 18 हजार छोटे करोबारियों को ट्रांसफर किए 500 करोड़ रुपएDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतनKangana Ranaut ने Uddhav Thackeray पर कसा तंज, कहा- 'हनुमान चालीसा बैन किया था, इन्हें तो शिव भी नहीं बचा पाएंगे'उदयपुर हत्याकांड: आरोपियों के कराची कनेक्शन पर पाकिस्तान की बेशर्मी, जानिए क्या बोलाUdaipur Murder: उदयपुर में हिंदू संगठनों का जोरदार प्रदर्शन, हत्यारों को फांसी दो के लगे नारे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.