शिक्षा विभाग में दूर होगी बाबूओं की कमी

प्रदेश के सरकारी स्कूलों और शिक्षा विभाग ( education department ) के कार्यालयों में चल रही बाबूजी की कमी काफी हद तक दूर हो सकेगी।

By: Ashish

Published: 29 Jun 2020, 06:16 PM IST

जयपुर

Education department : प्रदेश के सरकारी स्कूलों और शिक्षा विभाग ( education department ) के कार्यालयों में चल रही बाबूजी की कमी काफी हद तक दूर हो सकेगी। विभागीय कार्यालयों और स्कूलों में बाबूओं की कमी से अटके हुए काम फिर से गति पकड़ सकेंगे। पिछले कई सालों से कई स्थानों पर पद खाली पड़े हुए हैं। कहीं जरूरत के हिसाब से कनिष्ठ लिपिक नहीं हैं। ऐसे में कामकाज प्रभावित होता है। लेकिन अब शिक्षा विभाग को 6 हजार से ज्यादा नए कनिष्ठ लिपिक मिले हैं। जिन्हें जल्द ही पोस्टिंग दी जाएगी।

मिली जानकारी के मुताबिक राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से कनिष्ठ लिपिक परीक्षा 2018 के 6125 चयनितों को शिक्षा विभाग ने अब जिले आवंटित कर दिए हैं। माध्यमिक शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी ने जिला आवंटन के आदेश जारी कर दिया हैं। इनमें 5707 नॉन टीएसपी जबकि 418 टीएसपी के चयनित शामिल हैं। जिला आवंटन के बाद शिक्षा विभाग में कनिष्ठ लिपिक के खाली चल रहे पद भर सकेंगे। इन चयनितों को आॅनलान विकल्प पत्र के जरिए जिलों का आवंटन किया गया है। शिक्षा विभाग को नए कनिष्ठ लिपिक मिलने से विभागीय कामकाजों को गति मिलेगी। अब विभागीय कार्यालयों के साथ स्कूलों को इस बात का इंतजार है कि उन्हें अपने यहां स्वीकृत पदों के अनुपात में कितने नए कनिष्ठ लिपिक मिलेंगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned