चार जिलों से नकल गिरोह पकडने के बाद अब एसआई भर्ती को लेकर आई ये बड़ी खबर....... पुलिस ने किए बदलाव

जयपुर समेत 4 जिलों से नकल गिरोह पकडे गए हैं। इन गिरोहों से पूछताछ के बाद अब दो और गिरोह भी राडार पर हैं, जल्द ही उनका भी खुलासा किया जाना संभव है।

By: JAYANT SHARMA

Updated: 14 Sep 2021, 12:12 PM IST

जयपुर। पहली बार ऐसी कोई परीक्षा है जिसमें थानों का सत्तर फीसदी तब जाब्ता परीक्षा सेंटर्स पर लगाया गया है। पुलिस की शायद ही कोई एजेंसी बाकि रही होगी जो नकल गिरोह के चक्रव्यूह को भेदने के लिए अपने पूरे प्रयास नहीं कर रही हो। फिर चाहे आईबी हो, एसओजी, एटीएस, डीएसटी, साइबर सेल या फिर थानों की पुलिस। यही कारण रहा कि तीन दिन तक चलने वाली यह परीक्षा अब किसी जंग से कम नहीं रह गई है। जंग के पहले दिन जयपुर समेत पांच जिलों से नकल गिरोह पकडे गए हैं। इन गिरोहों से पूछताछ के बाद अब दो और गिरोह भी राडार पर हैं, जल्द ही उनका भी खुलासा किया जाना संभव है।

थानों का सत्तर फीसदी तक जाब्ता सेंटर्स पर लगाया
परीक्षा के सफल आयोजन के लिए पुलिस ने इसे चैलेंज के तौर पर लिया है। पहली बार है कि किसी परीक्षा में इतनी सख्ती की जा रही हैं नकल गिरोह और पुलिस के बीच एक तरह से युद्ध चल पड़ा है। पुलिस परीक्षा को बचाना चाहती है और गिरोह इसमें सेंध लगाने की हर संभव कोशिश कर रहे हैं। कल धडाधड़ कार्रवाई होने के बाद अब जयपुर समेत सभी ग्यारह जिलों में परीक्षा सेंटर्स पर अतिरिक्त पुलिस बंदोबस्त किया गया है। थानों का करीब सत्तर फीसदी तक स्टाफ सेंटर्स पर लगाया गया है ताकि हर परीक्षार्थी को बेहद गंभीरता से जांच जा सके परीक्षा देने से पहले। साथ ही लाईन की पुलिस पार्टियों को भी तैनात किया गया है। साइबर पुलिस और आईबी अपने स्तर पर कार्रवाई में जुटे हैं तो एसओजी और एटीएस एवं स्पेशल क्राइम टीमें भी लगातार सेंटर्स पर नजरें जमाए हुए हैं।

दो सेंटर्स पर तो ओएमआर शीट तक ले भागे अभ्यर्थी
जयपुर शहर में आए सेंटर्स पर परेशानी अन्य जिलों की तुलना में ज्यादा है। जयपुर से गिरोह को पकडने के अलावा दो अन्य केस सामने आए हैं जिनमें परीक्षार्थी परीक्षा सेंटर्स से ओएमआर शीट्स ही लेकर भाग गए। बाद में उनको जैसे तैसे बुलाया गया और इसकी जानकारी पुलिस को देकर केस दर्ज कराया गया। शास्त्री नगर पुलिस ने बताया कि नेहरु नगर स्थित एमकेबी स्कूल में आए सेंटर में एक परीक्षार्थी , जो भरतपुर का रहने वाला था और उसका नाम दमन शांति है। कल शाम की पारी के बाद वह ओमएआर शीट लेकर भाग गया। बाद में उसे फोन कर बुलाया गया ओर ओएमआर शीट ली गई। इसी तरह से विद्याधर नगर में स्थित आदर्श विद्या मंदिर स्थित सेंटर में ओएमआर शीट लेकर रणवीर सिंह नाम का प्रतियोगी छात्र भाग गया। बाद में एक घंटे के बाद वह वापस ओएमआर शीट जमा करा गया। उसके खिलाफ स्कूल संचालक ने केस दर्ज कराया है।

परीक्षाओं के भविष्य पर खड़ा हो रहा सवाल, अभ्यर्थियों के हाल खराब
रविवार को हुई नीट परीक्षा में बड़ा खुलासा हुआ है। परीक्षा के दौरान पेपर आउट कर प्रश्न पत्र हल कराने वाले गिरोह को जयपुर पुलिस ने दबोचा है। परीक्षा के भविष्य पर यह कार्रवाई सवाल खड़े कर रही है। वहीं एसआई भर्ती परीक्षा में भी नकल गिरोह का साया है। बस्सी निवासी अनिल शर्मा जो उदयपुर से आज सवेरे वापस लौटे हैं ने बताया कि उदयपुर सेंटर दिया गया था। कल परीक्षा दी और आज सवेरे जब समाचार पत्र देखे तब से मन घबरा रहा है। चार सालों से लगातार तैयारी करने के बाद एसआई का पर्चा दिया है। पर्चा भी अच्छा हुआ है। लेकिन परीक्षा में कोई धंाधली होती है तो परेशानी बढ़ जाएगी। यही हाल उदयपुर से लौटी सोडाला निवासी रानी शर्मा का है।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned