एसआई भर्ती परीक्षा केन्द्र का वीडियो और ओएमआर शीट वायरल

 

सोशल मीडिया पर चला परीक्षा रद्द करने का अभियान

By: Vijay Sharma

Published: 16 Sep 2021, 03:01 PM IST

जयपुर। आरपीएससी की ओर से हाल ही तीन चरणों में आयोजित की गई एसआई भर्ती परीक्षा भले ही समाप्त हो गई है। लेकिन विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा हैं। परीक्षा पूरी होने के बाद बुधवार रात को सोशल मीडिया पर परीक्षा केन्द्र के अंदर का वीडियो और फोटो वायरल हो गए। इतना ही नहीं एक अभ्यर्थी की ओेएमआर शीट भी वायरल होे गई। ओएमआर शीट पर जयदेव शर्मा अभ्यर्थी का नाम लिखा है, जो 15 सितंबर को लिए गए हिंदी सामान्य पेपर की शीट हैं।
जैसे ही वीडियो और फोटो वायरल हुए, अभ्यर्थियों ने इसका विरोध शुरू कर दिया। अभ्यर्थियों ने आरपीएससी की परीक्षा केन्द्रों पर सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए। परीक्षा में 7.95 लाख अभ्यर्थियों ने भाग लिया था।

सवाल : रीट पर चार गुणा परीक्षार्थी बैठेंगे, कैसे रोकेंगे फर्जीवाड़ा
इधर, एसआई भर्ती में फर्जीवाड़ा और नकल सामने आने के बाद रीट परीक्षा में सुरक्षा इंतजामों पर सवाल खड़े हो रहे हैं। अभ्यर्थियों का कहना है कि एसआई भर्ती की परीक्षा संभाग और जिला मुख्यालयों पर आयोजित की गई थी। इसके बाद भी परीक्षा केन्द पर अभ्यर्थी मोबाइल ले गए। ऐसे में 26 सितंबर को रीट परीक्षा में 26 लाख अभ्यर्थी बैठेंगे। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के लिए परीक्षा को पारदर्शिता के साथ कराना चुनौती पूर्ण रहेगा। हालांकि रीट परीक्षा को लेकर प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली है। जिला कलक्टर की अध्यक्षता में हर जिले में आठ सदस्यीय कमेटी बनाई गई है।

विरोध में 20 सितंंबर को आंदोलन
एसआई भर्ती परीक्षा में फर्जीवाड़ा और नकल सामने आने के बाद राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ कार्यालय में बैठक हुई। प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव के नेतृत्व में अभ्यर्थियों ने परीक्षा में पेपर लीक नक़ल प्रकरण की घटनाओं का विरोध किया और मामले की जांच एसओजी से करवाने
और पेपर लीक फर्जी डिग्री, डमी अभ्यर्थियों और नकलचियों के खिलाफ सख्त कानून बनवाने की मांग की। इसके विरोध में 20 सितंबर को शहीद स्मारक पर आंदोलन शुरू करने का निर्णय लिया।

Vijay Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned