उद्योग विभाग की शिल्पशाला में सिखाएंगे हस्तशिल्प के गुर

Hanuman Ram Galwa | Updated: 14 Jun 2019, 05:17:28 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

शिल्पशाला 24 जून शुरू, पंजीयन 21 जून तक

प्रदेश की हस्त व शिल्पकला को संरक्षित व सवंद्र्धित करने के लिए बच्चों, युवाओं, युवतियों और परंपरागत शिल्प से जुडऩे के इच्छुक कलाकारों को शिल्पशाला में हस्तशिल्प के गुर सिखाएं जाएंगे।
उद्योग आयुक्त डॉ. कृष्णा कांत पाठक ने बताया कि पांच दिवसीय शिल्पशाला का आयोजन भारतीय षिल्प संस्थान के सहयोग से उद्योग विभाग के उद्यम प्रोत्साहन संस्थान की ओर से 24 जून से किया जाएगा। उन्होंने बताया कि दस वर्ष और इससे अधिक आयुवर्ग के कोई भी इच्छुक भारतीय षिल्पकला संस्थान की वेबसाइट पर ऑनलाइन या सीधे ही भारतीय शिल्प संस्थान या उद्योग विभाग में 21 जून तक कार्यालय समय में पंजीयन कर सकते हैं। शिल्पशाला का आयोजन झालाना स्थित भारतीय षिल्प संस्थान में किया जाएगा। पांच दिवसीय शिल्प शाला में नि:शुल्क होगी। केवल 200 रु. प्रति प्रतिभागी पंजीयन शुल्क देना होगा। आयुक्त डॉ. पाठक ने शुक्रवार को भारतीय शिल्प कला संस्थान व उद्यम प्रोत्साहन संस्थान के अधिकारियों के साथ बैठक में शिल्प शिक्षा के संभावित शिल्पों का चयन किया। उन्होंने बताया कि पांच दिवसीय शिल्प षिक्षा के लिए पहले चरण में 14 शिल्पों का चयन किया गया है इनमें लाख, मीनाकारी, टाई एण्ड डाई (बंधेज/लहरिया), मिट््टी के बर्तन/टेराकोटा, मिनियेचर पेंटिंग, पेपर मैशे, ब्लाक प्रिटिंग, तारकशी, उस्ता कला, चर्म शिल्प, ब्लू पॉटरी, डेको पेज आर्ट, लैंडस्केपिंग पेंटिंग और मेहंदी कला आदि को शामिल किया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned