गुड न्यूज़: अब दिल के मरीजों की परेशानी जल्द होगी दूर, एसएमएस हॉस्पिटल में आएगी ये मशीनें

गुड न्यूज़: अब दिल के मरीजों की परेशानी जल्द होगी दूर, एसएमएस हॉस्पिटल में आएगी ये मशीनें

Punit Kumar | Updated: 13 Feb 2018, 06:10:08 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

फिलहाल जिन मशीनों का उपयोग किया जा रहा है, वे सभी 14 साल पुरानी हो चुकी है। ऐसे में यह मशीनें मेटिनेंस मांग रही हैं।

जयपुर। दिल की बीमारी से प्रदेश के कई लोग ग्रसित हैं, तो वहीं उचित खान-पान और ध्यान नहीं रखने के कारण दिल से जुड़े कई रोगियों को इंफेक्शन का भी खतरा बना रहता है। इसी को ध्यान में रखते हुए जयपुर के एसएमएस अस्पताल एक नई कवायद चल रही है। जिसे लेकर अस्पताल प्रशासन ने प्रक्रिया भी तेजी से शुरु कर दी है। प्रदेश में दिल के मरीजों को देखते हुए प्रशासन जल्द आधुनिक मशीन लेने की तैयारी मे जुट गई है। जानकारी के मुताबिक, प्रशासन ने दिल के मरीजों की जांच में लंबी वेटिंग को देखते हुए यह कदम उठाने जा रही है, जिससे दिल के रोगियों को राहत मिल सके।

 

बता दें कि इस प्रक्रिया के तहत सबसे पहले सीएसएसडी मशीनों को बदला जा रहा है। अभी तक ऑपरेशन थिएटर में काम आने वाले औजार, कपड़े आदि के इंफेक्शन खत्म करने के लिए सीएसएसडी मशीन का प्रयोग किया जाता है। तो वहीं फिलहाल जिन मशीनों का उपयोग किया जा रहा है, वे सभी 14 साल पुरानी हो चुकी है। ऐसे में यह मशीनें मेटिनेंस मांग रही हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए प्रशासन पुरानी मशीनों हटाकर नई आधुनिक तकनीक की दो सीएसएसडी मशीनें लाने की तैयारी में है।

 

मशीनों के लिए इतने करोड़ होंगे खर्च-

इसी के साथ प्रशासन अब दिल के मरीजों को राहत देने के लिए एक और टू डी ईको मशीन ला रही है। जबकि इन तीनों मशीनों के लिए एक करोड़ 27 लाख रुपए का बजट तैयार किया गया है। इसके लेकर अस्पताल प्रशासन ने जयपुर रिको एक प्रस्ताव भेजा था। जिसे केजुअल सोशल रेस्पोन्सिबिलिटी फंड के तहत स्वीकृत किया गया है। जिसे लेकर जल्द ही टेंडर जारी किए जा रहे हैं।

 

लंबे इंतजार से मिलेगी राहत-

इधर बांगड़ में की जाने वाली टू टू डी ईको जांच के लिए मरीजों को इन दिनों काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। तो जांच के लिए मरीजोंं को 8 से 10 दिन का इंतजार करना पड़ता है। प्रशासन एक और टू डी ईको मशीन लेने जा रही है। जिसके बाद मरीजों की समस्या दूर हो जाएगी।

 

इनका कहना है-

तो वहीं इस मामले पर एसएमएस अस्पताल के अधीक्षक डीएस मीणा ने कहा कि मरीजों की परेशानी को देखते हुए हमने रिको को प्रस्ताव भेजा था, जिसे स्वीकृत कर लिया गया है। जिसके तहत तीन आधुनिक मशीनें आ रही हैं। जिसके लिए जल्द ही टेंडर जारी किए जाएंगे।

 

Read More: अब ऊंटनी का दूध सुधारेगा सेहत, 5 करोड़ की लागत से तैयार होगा मिनी प्लांट

Read More: राजस्थान की जनता के साथ सबसे बड़ा छलावा! CM बोली, 'घोषणाएं पूरी करने की गारंटी नहीं', यहां देखें VIDEO

Read More: राजस्थान बजट 2018: जानें, प्रदेशवासियों के लिए बजट में क्या हुई बड़ी घोषणाएं- तो किसे क्या मिला

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned