साे रहे कुत्ते के ऊपर बना दी सड़क, साेशल मीडिया पर लाेगाें ने निकाला गुस्सा

santosh trivedi

Publish: Jun, 14 2018 11:45:05 AM (IST) | Updated: Jun, 14 2018 11:49:27 AM (IST)

Jaipur, Rajasthan, India
साे रहे कुत्ते के ऊपर बना दी सड़क, साेशल मीडिया पर लाेगाें ने निकाला गुस्सा

कत्ते के ऊपर सड़क बनाने की तस्वीर आैर वीडियाे इन दिनाें साेशल मीडिया में खूब वायरल हाे रही है। राजस्थान में भी यह मामला साेशल मीडिया में छाया हुआ है।

जयपुर। खबर यूपी से है जहां एक साे रहे कुत्‍ते के ऊपर ही सड़क बना दी। मामला ताजमहल से कुछ दूर स्थित सैयद चौराहे का है। कुत्ते के ऊपर सड़क बनाने की तस्वीर आैर वीडियाे इन दिनाें साेशल मीडिया में खूब वायरल हाे रही है। राजस्थान में भी यह मामला साेशल मीडिया में छाया हुआ है।

 

ज्यादातर लाेगाें का कहना है कि आखिर काेर्इ इतना बेरहम कैसे हाे सकता है। खाेलता डामर डालने पर कुत्ता कितना तड़पा हाेगा। किसी ने इसे क्रूरता की हद बताया तो किसी ने लिखा कि उनके पास शब्द ही नहीं है। इस संवेदनहीनता को बयां करने के लिए। फेसबुक, व्हाट्सएप, ट्विटर पर लोगों ने इस मामले की पोस्ट डालीं हैं, जिन्हें खूब शेयर किया जा रहा है।

 

अलवर के वीर सपूत को उनके 15 दिन के बेटे ने दी मुखाग्नि, हजारों लोगों ने नम आंखों से दी विदाई

 

मामले में पुलिस ने चार लाेगाें काे अरेस्ट किया है। इनमें कंस्ट्रक्शन कंपनी का सुपरवाइजर रविंद्र सिंह, रोड रोलर ड्राइवर कुलदीप सिंह और दो मजदूर शामिल हैं। यह मामला पुलिस की एक गलती से आैर उलझ गया है। दरअसल पुलिस ने कुत्ते का शव निकालने के बाद उसका पोस्टमार्टम नहीं करवाया। इसके चलते यह पता नहीं चल सकेगा कि कुत्ता पहले से मरा था या सड़क के नीचे आने के बाद मरा।

 

एक चश्मदीद का कहना है कि जब उसने देखा ताे कुत्ता जिंदा था। दूसरी आेर, गिरफ्तार आरोपियों का कहना है कि कुत्ता पहले से मरा हुआ था। अंधेरे की वजह से ध्यान नहीं गया। हालांकि उन्होंने माना कि उसने गलती हुई है। उनका कहना है कि जब उनकाे कुत्ते के दबे हाेने का पता चला ताे जेसीबी मशीन से उसे निकलवाकर जमीन में गाड़ दिया पोस्टमार्टम नहीं होने की वजह से अब यह पता नहीं चल सकेगा कि वहां कुत्ते का शव पड़ा था या जिंदा कुत्ते पर डामर-गिट्टी डालने से उसकी मौत हुई।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned