Sompad Dashami — शुभफलदायक होते हैं इस तिथि पर शुरू किए गए काम

सनातन धर्म में पंचांग का बहुत महत्व है. हर काम के पहले हमारे यहां पंचांग देखकर शुभ मुहुर्त जानने की परंपरा चली आ रही है. पंचांग में तिथि भी होती है जोकि पंचांग का प्रथम अंग होती है.

By: deepak deewan

Published: 29 Jun 2020, 01:21 PM IST

जयपुर. सनातन धर्म में पंचांग का बहुत महत्व है. हर काम के पहले हमारे यहां पंचांग देखकर शुभ मुहुर्त जानने की परंपरा चली आ रही है. पंचांग में तिथि भी होती है जोकि पंचांग का प्रथम अंग होती है. एक चन्द्र मास की 30 तिथियाँ होती है. तिथियाँ शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से गिनी जाती है और 15 तिथि को पूर्णिमा कहते हैं. इसके बाद कृ्ष्ण पक्ष की तिथियाँ आरम्भ हो जाती है. वे भी प्रतिपदा से आरम्भ होकर अमावस्या तक गिनी जाती हैं परन्तु अमावस्या को 30 वीं तिथि कहते है. अमावस्या के स्थान पर 30 तिथि लिखी जाती है.

ज्योतिषाचार्य पंडित दीपक दीक्षित बताते हैं कि तिथियों के अलग—अलग नाम होते हैं और इनके अलग—अलग देवी—देवता भी होते हैं. हर माह के प्रत्येक पक्ष में क्रमश: प्रतिपदा, द्वितीया, तृ्तीया, चतुर्थी, पंचमी, षष्ठी, सप्तमी, अष्टमी, नवमी, दशमी, एकादशी, द्वादशी, त्रयोदशी, चतुर्दशी और पूर्णिमा अथवा अमावस्या होती हैं. इन तिथियों के देवता या स्वामी निम्नलिखित हैं :-
प्रतिपदा - अग्नि
द्वित्तीया - ब्रह्मा
तृतीया - गौरी (पार्वती)
चतुर्थी - गणेश
पंचमी - नाग
षष्ठी - कार्तिकेय
सप्तमी - सूर्य
अष्टमी - शिव
नवमी - दुर्गा
दशमी - यमराज
एकादशी - विश्वदेव
द्वादशी - भगवान विष्णु
त्रयोदशी - कामदेव
चतुर्दशी - शिव
अमावस्या - चन्द्र, मतान्तर से अमावस्या के स्वामी पितर भी हैं.
पूर्णिमा - चन्द्र

सोमपद तिथियाँ -
ज्योतिषाचार्य पंडित नरेंद्र नागर बताते हैं कि कुछ मास की विशेष तिथियां शुभपफलदायक होती हैं. इन्हें सोमपद तिथियाँ कहते हैं. सोमपद तिथियों में ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि, आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि, पौष मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि, माघ मास की कृ्ष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि और शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि शामिल हैं. 30 जून को आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि है जोकि सोमपद तिथि है. इस दिन प्रारंभ किए गए कार्य शुभफलदायक होंगे.

deepak deewan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned