पेट्रोल-डीजल की कीमत पर बयानों की आग

पेट्रोल-डीजल के भाव ( Petrol-Diesel Price ) जहां आसमान पर हैं तो राजनीतिक दल ( Political Parties ) भी एक दूसरे पर जमकर निशाना ( Blaiming Each Other ) साध रहे है। ( Jaipur News )

By: sanjay kaushik

Updated: 30 Jun 2020, 01:11 AM IST

पेट्रोल-डीजल के दाम से पब्लिक परेशान...मोदी को तो मुनाफा पसंद : गहलोत

जयपुर। पेट्रोल-डीजल के भाव ( Petrol-Diesel Price ) जहां आसमान पर हैं तो राजनीतिक दल ( Political Parties ) भी एक दूसरे पर जमकर निशाना ( Blaiming Each Other ) साध रहे है। ( Jaipur News ) कांग्रेस ने इसको लेकर सोमवार से ऑनलाइन अभियान भी शुरू किया है। इसके जरिए वे पेट्रोलियम पदार्थों के दामों में कमी की मांग कर रहे हैं। इधर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए मोदी सरकार पर निशाना साधा। सीएम गहलोत ने कहा कि जब पूरे देश की जनता कोरोना से जूझ रही है ऐसे में मोदी सरकार पेट्रोल और डीजल से मुनाफा कमा रही है। पूरी दुनिया में कच्चे तेल के दाम नीचे आ गए हैं, लेकिन भाजपा सरकार को यह नहीं दिख रहा है और वे सो रही है। इससे महंगाई और बढ़ रही है। ट्रांसपोर्ट महंगा हो गया है। कृ षि प्रभावित हो रही है। सभी वर्ग इसके परेशान हैं, लेकिन इनके कान में आवाज नहीं जा रही है। सोमवार को कांग्रेस ने पूरे देश में विरोध प्रदर्शन कर मांग की है कि पेट्रोल डीजल के दाम कम किए जाएं।

-मोदी सरकार की आंख खोलनी पड़ेगी : पायलट

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि पेट्रोल-डीजल को लेकर हम एक संदेश देना चाहते थे और सोमवार को हम उस संदेश को देने में सफल हुए। जब किसी चीज की ज्यादा जरूरत पड़ती है, जब उसके दामों में वृद्धि होती है, जबकि कोरोना के कारण पूरी दुनिया भर में पेट्रोल-डीजल की मांग और दाम गिर गए हैं, पेट्रोल-डीजल के भंडार भरे हैं, फिर भी भारत में दाम बढ़ रहे है। हमें सरकार की आंख खोलनी पड़ेगी । छह साल पहले हमने राजस्थान में भाजपा सरकार की भी आंख खोली थी।

-लॉकडाउन के बाद 22 बार दाम बढ़ाकर वसूले 18 लाख करोड़ : सोनिया

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों पर मोदी सरकार पर निशाना साधा और कहा कि लॉकडाउन के बाद पेट्रोल-डीजल पर 22 बार एक्साइज ड्यूटी बढ़ाकर मोदी सरकार ने 18 लाख करोड़ रुपए अतिरिक्त वसूले हैं। एक तरफ कोरोना महामारी का कहर और दूसरी तरफ महंगे पेट्रोल-डीजल की मार ने देशवासियों का जीना मुश्किल कर दिया है।

-राहुल का हल्ला बोल...लॉन्च किया अभियान

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमत को लेकर सीधा हमला बोला है। राहुल ने कहा है कि सरकार पेट्रोल-डीज़ल से मुनाफाखोरी बंद करे, एक्साइज दर तुरंत घटाए और दाम कम करे। राहुल ने कहा कि सरकार ने तीन महीने में पेट्रोल-डीजल के 22 बार दाम बढ़ाए हैं, जिसका सीधा असर गरीब और मध्यम वर्ग पर पड़ा है। यह बात राहुल ने 'स्पीकअप अगेंस्ट फ्यूल हाइक कैंपेनिंगÓ के दौरान कही।

-मंत्री प्रधान का सोनिया पर पलटवार

केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर पेट्रोल डीजल को लेकर पलटवार करते हुए कहा कि मोदी सरकार पेट्रोल-डीजल का पैसा गरीबों के खाते में जमा करती है...गरीबों के कल्याण में खर्च करती है, न कि कांग्रेस की तरह 'दामाद' और राजीव गांधी फाउंडेशन के बैंक खातों में जमा कराया जाता है। कोरोना वैश्विक महामारी के कारण दुनिया में तेल और गैस इंडस्ट्री भी मांग और आपूर्ति के विचित्र संकट से गुजर रही है।

-पेट्रोल-डीजल की कीमत 23वें दिन फिर चढ़ी

देशभर में फैले कोरोना संकट के बीच पेट्रोल-डीजल के दामों में भी लगातार तेजी जारी है। आम आदमी की मुश्किलें हर दिन बढ़ती जा रही है। रविवार को दाम स्थिर रहने के बाद एक बार फिर राजस्थान समेत सभी महानगरों में पेट्रोल-डीजल के भाव में इजाफा हुआ। सोमवार को पेट्रोल छह पैसे और डीजल 13 पैसे फिर महंगा हो गया। २३ दिनों में अब तक पेट्रोल 9.81 और डीजल 10.99 रुपए महंगा हो गया है। सोमवार को जयपुर में पेट्रोल के दाम छह पैसे चढ़कर 87.57 रुपए एवं डीजल 13 पैसे की तेजी के साथ 81.32 रुपए प्रति लीटर पर आ गए। रविवार को पेट्रोल-डीजल के भावों में कोई उतार-चढ़ाव नहीं देखा गया था। शनिवार को जयपुर में पेट्रोल के दाम 26 पैसे चढ़कर 87.51 रुपए एवं डीजल 20 पैसे की तेजी के साथ 81.19 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गए थे। सात जून से सरकारी तेल कंपनियों ने ईंधन की कीमतों में किए जाने वाले रोजाना बदलाव को दोबारा शुरू कर दिया।

Show More
sanjay kaushik Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned