गांधी और कस्तूरबा के संघर्ष को रंगों के माध्यम से समझाया

गांधी और कस्तूरबा के संघर्ष को रंगों के माध्यम से समझाया

neha soni | Publish: Mar, 13 2019 02:38:22 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

40 पेंटिंग्स के जरिए स्टूडेंट्स ने समझाई गांधी विचारधारा

जयपुर।
12 मार्च से लेकर छह अप्रेल 1930 तक चले दांडी मार्च ने भारतवासियों को ऐसा अनुभव करवाया, जिसने उनमें एक नई उम्मीद और विश्वास को जन्म दिया। गांधी के संघर्ष, आजादी के आन्दोलन, देशवासियों की ओर से आजादी को लेकर किए गए प्रयास को मंगलवार को राजस्थान यूनिवर्सिटी में रंगों के माध्यम से पेश किया गया। दांडी मार्च स्मृति दिवस एवं चित्र प्रदर्शनी के तहत गांधी अध्ययन केन्द्र में हुई पेटिंग्स एग्जीबिशन में फाइन आर्ट डिपार्टमेंट के स्टूडेंट्स ने जहां गांधी के दांडी यात्रा के चित्रों के माध्यम से उस दौर के अनुभवों से स्टूडेंट्स को रूबरू करवाने की कोशिश की। वहीं यात्रा के 89 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित इस एग्जीबिशन में गांधी जीवन के विभिन्न रूपों को भी दर्शाया । एग्जीबिशन के दौरान स्टूडेंट्स ने 40 चित्रों को डिस्प्ले किया है, जिसमें गांधी के अलावा उनकी पत्नी कस्तूरबा के जीवन संघर्ष को भी बयां किया गया।

दुनिया की नजर में छाए गांधी : केन्द्र में एक स्पेशल लेक्चर भी रखा गया, जिसकी शुरुआत केंद्र के निदेशक डॉ. राजेश कुमार शर्मा ने पुलवामा शहीदों को श्रद्धांजली अर्पित कर की। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे जे.के. रांका ने कहा कि दांडी मार्च ही एक ऐसी अद्भुत घटना थी, जिसके चलते महात्मा गांधी दुनिया की नजर में छाए। मुख्य अतिथि आईएएस प्रदीप कुमार बोरड और कुलपति प्रो. आर.के. कोठारी ने भी अपने विचार रखे।

एयरस्ट्राइक को भी किया चित्रित
एग्जीबिशन में जहां गांधी की दांडी यात्रा के चित्रों के जरिए स्टूडेंट्स ने देशभक्ति की भावना जागृत की। वहीं रंगों के माध्यम से पुलवामा और एयर स्ट्राइक को भी दर्शाया गया। इस दौरान शांति का संदेश देने के लिए गांधी को शांति दूत माने जाने वाले कबूतर के साथ प्रदर्शित किया। इसके अलावा कस्तूरबा के शराबबंदी के लिए किए गए संघर्ष और असहयोग आन्दोलन व नमक कानून में उनकी भागीदारी को भी स्टूडेंट्स ने अपने आटवर्क में बहुत ही खूबसूरती के साथ उकेरा। एग्जीबिशन में रवि कोली को प्रथम पुरस्कार, सरिका शर्मा को द्वितीय और चानन मल को तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned