इतनी सी बात पर फांसी लगा ली पांचवी के छात्र ने

Class five student commits suicide...नवजोत पांचवी कक्षा का छात्र था। उसके पिता सतनाम ट्रक ड्राइवर हैं और पंजाब किसी शादी में शामिल होने के लिए गुरुवार रात ही निकले थे। घर पर नवजोत की बडी बहन और नवजोत ही थे।

By: JAYANT SHARMA

Published: 07 Mar 2020, 12:41 PM IST

जयपुर
अलवर में पांचवी कक्षा के ग्यारह वर्षीय छात्र ने फांसी लगाकर जान दे दी। वह स्कूल जाने को तैयार नहीं था और चार साल बड़ी बहन उसे स्कूल भेजने के लिए उसकी मनौव्वल कर रही थी। लेकिन छात्र ने खुद को कमरे में बंद कर लिया और बाद में फांसी लगा ली। मामले की जांच कर रही पुलिस ने बताया कि बीजवा गांव में रहने वाला नवजोत पांचवी कक्षा का छात्र था। उसके पिता सतनाम ट्रक ड्राइवर हैं और पंजाब किसी शादी में शामिल होने के लिए गुरुवार रात ही निकले थे। घर पर नवजोत की बडी बहन और नवजोत ही थे।

शुक्रवार को नवजोत ने स्कूल जाने से मना कर दिया ओर खुद को कमरे में बंद कर दिया। उसकी जिद के आगे बहन भी हार गई तो हारकर बहन ने नवजोत के कमरे के बाहर खाना रख दिया। खाना लेने के लिए नवजोत ने कमरा खोला और बाद में फिर बंद कर लिया। बहन अपने काम में ले गइ। देर शाम जब बहन ने नवजोत को बाहर आने के लिए कहा तो नवजोत ने कमरा नहीं खोला। खिड़की से देखा तो नवजोत फंदे से झूलता छटपटा रहा था। पड़ोसियों को इसकी सूचना दी गई तो पड़ोसियों ने नवजोत को नीचे उतारा और उसे लेकर अस्पताल के लिए दौड़ लगा दी। अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सकों ने नवजात को मृत घोषित कर दिया।

कुछ दिन पहले भी खुद को बंद किया था
सीएचसी रामगढ़ पहुंचे परिजनाें ने बताया कि नवजोत के पिता पेशे से ड्राइवर हैं। बालक काफी जिद्दी स्वभाव का था। रविवार काे भी उसने खुद को कमरे में बंद कर लिया था। काफी समझाने के बाद कमरा खोला और खाना खाया था। नवजोत की बहन ने बताया कि उसका दूसरा छोटा भाई भी है। वह नर्सरी में पढ़ता है। छोटा होने से मम्मी-पापा उसे शादी में साथ ले गए हैं। सीएचसी पहुंचे पुलिसकर्मियों से लेकर डाॅक्टर तक हर काेई घटना जानकर हतप्रभ रह गया।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned