राजस्थान को निवेश का हब बनाने के लिए जनवरी में होगा 'इन्वेस्ट राजस्थान-2022 समिट'

20 और 21 जनवरी को दो दिवसीय समिट के दौरान निवेश संबंधी कार्य ऑन दी स्पॉट होंगे,सीतापुरा के जेईसीसी में होगी दो दिवसीय समिट

By: firoz shaifi

Published: 06 Oct 2021, 08:52 PM IST

जयपुर। प्रदेश को निवेश का हब बनाने और निवेशकों को प्रदेश में आमंत्रित करने के लिए गहलोत सरकार अगले साल जनवरी माह में दो दिवसीय 'इन्वेस्ट राजस्थान-2022 समिट' का आयोजन करने जा रही है। ये समिट जयपुर के सीतापुरा के जेईसीसी में होगी।

दो दिवसीय समिट के दौरान निवेश संबंधी कार्य ऑन दी स्पॉट ही किए जाएंगे। समिट से पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उद्योग मंत्री परसादी लाल मीणा और अन्य विभागों के मंत्रियों के नेतृत्व में एक डेलीगेशन देश और देश से बाहर के निवेशकों से संपर्क कर उन्हें राजस्थान के विकास में भागीदार बनने के लिए आमंत्रित करेंगे। निवेशकों से जुड़ने के लिए 21 अक्टूबर से वर्चुअल वेबिनार, राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय रोड शो तथा विभिन्न देशों के डिप्लोमेट्स के साथ चर्चा जैसे कार्यक्रम होंगे। जिनके जरिए राजस्थान को इन्वेस्टमेंट डेस्टिनेशन के रूप में प्रस्तुत किया जाएगा।

समिट के सफल आयोजन के लिए बीआईपी और रीको के अधिकारियों की ओर से चेन्नई, मुंबई और दिल्ली जैसे शहरों में निवेशकों के साथ संपर्क स्थापित किया जा रहा है। राज्य सरकार की ओर से 12 से 18 नवम्बर के बीच दुबई में होने वाले दुबई एक्सपो के साथ ही अमेरिका, जर्मनी, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, फ्रांस एवं यूके में अंतर्राष्ट्रीय रोड शो आयोजित करने की योजना है। इसके अलावा अहमदाबाद, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, दिल्ली, बैंगलुरू एवं हैदराबाद में भी रोड शो आयोजित करने की रूपरेखा तैयार की गई है।

1 लाख 67 हजार करोड़ के निवेश प्रस्तावों को बोर्ड ने दी मंजूरी
वहीं मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में गठित बोर्ड ऑफ इन्वेस्टमेंट ने करीब 1 लाख 67 हजार करोड़ रूपए से अधिक के निवेश प्रस्ताव पास किए हैं। इन्हें कस्टमाइज्ड इन्सेंटिव देने की मंजूरी दी गई है। इन निवेश प्रस्तावों के साकार होने से प्रदेश में करीब 40 हजार नये रोजगार पैदा होंगे।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned