टैगिंग की तो कार्मिकों को बनाया बंधक


पशु धन सहायकों के लिए परेशानी बन रही पशुओं की ईयर टैगिंग

By: Rakhi Hajela

Published: 25 Oct 2020, 11:19 PM IST

टैगिंग की तो कार्मिकों को बनाया बंधक
पशु धन सहायकों के लिए परेशानी बन रही पशुओं की ईयर टैगिंग
पशु टीकाकरण अभियान के दौरान पशु धन सहायकों के साथ आए दिन होने वाली गालीगलौच और मारपीट की घटनाएं कम होने का नाम ही नहीं ले रही हैं। हर दूसरे दिन प्रदेश के किसी ने किसी क्षेत्र से इस प्रकार की घटनाएं सामने आ रही हैं। एेसा ही कुछ आज सवाई माधोपुर जिले के नायपुर खंडार में टैङ्क्षगग का काम करने वाले पशुधन सहायक नंद किशोर मीणा, देंवेंद्र कुमार और भरत बैरवा के साथ हुआ। जब यह गांव में टीकाकरण और टैगिंग करने पहुंचे तो ग्रामीणों ने उन्हें बंधक बना लिया। उनके साथ गाली गलौच और मारपीट का प्रयास किया गया। कार्मिकों ने ग्रामीणों को पशु पालन विभाग की ओर से चलाए जा रहे एफएमडी अभियान की जानकारी दी लेकिन ग्रामीणों पर इसका कोई असर नहीं हुआ। ग्रामीण इसी बात पर अड़े रहे कि उनके पशुओं के कान में की गई टैगिंग को निकाला जाए। काफी देर तक चले इस हंगामे के बाद खंडार पुलिस के मौके पर पहुंचने के बाद इन्हें छोड़ा गया।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned