ताम्रध्वज साहू करेंगे कांग्रेस घोषणा पत्र की समीक्षा, मुख्यमंत्री ने ली तैयारी बैठक

-कांग्रेस घोषणा पत्र समिति के चेयरमैन हैं ताम्रध्वज साहू, 31 जुलाई को मुख्यमंत्री आवास पर लेंगे बैठक, कांग्रेस के घोषणा पत्र के अब तक के पूरे किए वादों की करेंगे समीक्षा

By: firoz shaifi

Published: 28 Jul 2021, 10:54 PM IST

जयपुर। प्रदेश कांग्रेस में एक ओर जहां सत्ता और संगठन को किस प्रकार से मजबूत किया जाए इसे लेकर प्रदेश प्रभारी अजय माकन विधायकों से संवाद करके उनसे फीडबैक ले रहे हैं तो वहीं कांग्रेस घोषणा पत्र समिति के चेयरमैन और छत्तीसगढ़ सरकार के कैबिनेट मंत्री ताम्रध्वज साहू के प्रदेश दौरे से पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को जन घोषणा पत्र पर अब तक हुए काम की प्रगति की समीक्षा बैठक ली।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को अपने निवास पर सभी कैबिनेट मंत्रियों और राज्य मंत्रियों की बैठक लेकर घोषणा पत्र पर हुए काम का विभागवार समीक्षा करते हुए बची हुई घोषणाओं पर तेजी से काम करने को कहा है। जन घोषणा पत्र को लेकर सीएम की ओर से बुलाई गई समीक्षा बैठक में मंत्रियों के अलावा सभी विभागों के एसीएस और प्रमुख शासन सचिव वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए समीक्षा बैठक से जुड़े।

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंत्रियों के साथ ही अधिकारियों को भी सख्त निर्देश दिया कि सभी अपनी जिम्मेदारी को समझें और समय पर सभी काम पूरे करें। मुख्यमंत्री गहलोत ने सभी मंत्रियों को कांग्रेस घोषणा पत्र से जुड़े विभाग के कामों की लगातार मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए।


गौरतलब है कि सरकार ने अपने कार्यकाल के 2 साल पूरे होने के मौके पर जन घोषणा पत्र में किए गए 501 में से 252 घोषणाएं पूरी करने का दावा किया था जबकि 172 घोषणा पर काम प्रगति पर होने का दावा किया गया था।

ताम्रध्वज साहू 31 जुलाई को लेंगे बैठक
इधर कांग्रेस घोषणा पत्र समिति के चेयरमैन और छत्तीसगढ़ सरकार में कैबिनेट मंत्री ताम्रध्वज साहू 31 जुलाई को जयपुर आएंगे, जहां वे मुख्यमंत्री आवास पर जन घोषणा पत्र के क्रियान्वयन को लेकर होने वाली बैठक की अध्यक्षता करेंगे। बैठक में प्रदेश प्रभारी अजय माकन और पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा भी शामिल होंगे।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned