टैटू का बदला अंदाज... बच्चे का हैंड या फुट प्रिंट है चलन में

टैटू का बदला अंदाज... बच्चे का हैंड या फुट प्रिंट है चलन में

Aryan Sharma | Publish: Feb, 15 2018 05:14:03 PM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 05:18:09 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

यादगार लम्हों की निशानी के लिए बनवा रहे टैटू

मोहित शर्मा/ जयपुर . यूं तो हर माता पिता अपने बच्चों की निशानी संभाल कर रखते हैं, लेकिन अब अपने बच्चों की निशानी हमेशा के लिए अपने पास रखने के लिए टैटू लवर ने नया तरीका निकाल लिया है।
अपने घर आए नन्हें मेहमान की पहली निशानी को यादगार बनाने के लिए उसके हैंड या फुट प्रिंट का अपनी बॉडी पर टैटू बनवा रहे हैं। अब लिपस्टिक, बिंदी, पायल और हाथ पर बैंड जैसी एक्सेसरीज को भी मशीन के सहारे परमानेंट करवाने लगे हैं। साथ ही पहली मुलाकात की तारीख भी कपल अपने शरीर पर लिखवा रहे हैं।


यादगार लम्हों की तारीख भी हमेशा साथ
एक्सपोज टैटूज के ऑनर सुनील गोयल ने बताया कि कपल अब एक-दूसरे का नाम की जगह अपनी पहली मुलाकात की डेट लिखवा रहे हैं।

लिपस्टिक, बिंदी, बैंड हुए परमानेंट

रोजाना तैयार होने के लिए लिपस्टिक और बिंदी की जरूरत तो होती है, लेकिन अब इसका भी एक अलग तरीका निकाल लिया है। वीमन अब पमारनेंट बिंदी और लिप्स पर अपनी पसंद के मुताबिक कलर करवा रही हैं। इसके अलावा जिनके आइब्रो कम हैं वो भी आइब्रो का टैटू बनवा रही हैं।

यहां तक कि कपल बेबी (छह महीने का) के हाथ या फिर पैर का प्रिंट लाकर अपने शरीर पर बनवा रहे हैं। यह उनके बेबी की पहली निशानी है जो कि उनके पास हमेशा रहेगी। इस तरह वह अपने बच्चे को और करीब महसूस करते हैं। साथ ही जब वह टैटू को देखते हैं तो उन पुरानी यादों में खो जाते हैं, जब उनका बेटा या बेटी शिशु अवस्था था।


लोकेशन के कॉर्डिनेट्स कोड

इतना ही नहीं, यूथ हाथ पर अपने घर, कॉलोनी, सिटी या फिर देश की लोकेशन के कॉर्डिनेट्स कोड भी लिखवा रहे हैं। यदि इन कोड को गूगल मैप पर सर्च करें तो जो जिस लोकेशन के कॉर्डिनेट्स कोड है वो लोकेशन शो करेगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned