कोरोना वॉरियर्स के लिए शिक्षक संगठन के आह्वान पर ​मास्क बना रही अध्यापिकाएं

उदयपुर से की शुरुआत, शिक्षकों के घरों की महिलाएं भी बना रहीं हैं मास्क, अन्य जिलों में भी तैयारी, कोरोना वॉरियर्स के लिए नि:शुल्क देंगी मास्क

जयपुर। कोरोना से जंग जीतने के लिए हर कोई तैयार है। हर कोई अपने तरीके से काम कर रहा है। ऐसे में अब अध्यापिकाओं ने भी कमान संभाली है। राजस्थान शिक्षक एवं पंचायतीराज कर्मचारी संघ के आह्वान पर अध्यापिकाएं और शिक्षकों के घरों की महिलाएं मास्क बनाने में जुट गई हैं। उदयपुर जिले से अभी इसकी संगठन ने शुरुआत की है।

संगठन के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष शेरसिंह चौहान ने बताया कि शिक्षक संगठन से जुड़ी करीब 500 महिलाएं अपने घरों में मास्क बना रही हैं। ये मास्क कोरोना वॉरियर्स को दिए जा रहे हैं, जिनमें हॉकर, दूध वाले, सब्जी वाले, पुलिसकर्मी, चिकित्साकर्मी, सफाई कर्मचारी और सर्वे में लगे शिक्षकों को यह मास्क दिए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि उदयपुर जिले से इसकी शुरुआत की गई है अब संगठन से जुड़ी महिलाएं इसे प्रदेशभर में शुरू करेंगी।

बना रही सूती मास्क
मास्क बना रही अध्यापिकाओं ने बताया कि बाजार में मिल रहे मास्क खराब हो जाते हैं, उन्हें नष्ट भी जलाकर करना पड़ता है। ऐसे में वे सूती कपड़े के मास्क बना रही हैं, जिन्हें धोकर फिर से काम में लिया जा सकता है। साथ ही उन्होंने बताया कि बाजार में मास्क मिल नहीं रहे हैं, कहीं मिल भी रहे हैं तो महंगे हैं, ऐसे में इस संकट की घड़ी में उन्होंने कोरोना वॉरियर्स के लिए मास्क बनाने की ठानी है। जिसमें उनका पूरा परिवार भी सहयोग कर रहा है।

MOHIT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned