व्हाट्सएप पर देनी होगी शिक्षकों को उपस्थिति


आदेश के विरोध में शिक्षक
स्कूल समय के बदलाव को भी निरस्त किए जाने की मांग

By: Rakhi Hajela

Updated: 13 Jan 2021, 08:33 PM IST

स्कूल खोले जाने की गाइडलाइन में पहले स्कूल का समय बढ़ाए जाने के निर्देश उस पर शिक्षकों की उपस्थिति व्हाट्सएप पर मांगे जाने की कवायद। इन निर्देशों ने कोविड काल में भी लगातार स्कूल जा रहे शिक्षकों के अंसतोष को बढ़ाने का काम किया है और अब शिक्षक दोनों ही निर्देशाों को निरस्त किए जाने की मांग कर रहे हैं। इनमें से एक निर्देश स्कूल खोले जाने को लेकर विभाग की ओर से जारी की गई एसओपी में हैं तो दूसरे निर्देश संभागीय आयुक्त की ओर से दिए गए हैं जिसे भी एसओपी में दिया गया है।
यह हैं संभागीय आयुक्त के निर्देश
संभागीय आयुक्त डॉ. समित शर्मा ने पिछले दिनों हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि वह शिक्षकों का उपस्थिति रजिस्टर प्रतिदिन व्हाट्सएप पर मंगवाए जाने की व्यवस्था सुनिश्चित करें। इसके बाद स्कूल खोले जाने को लेकर शिक्षा विभाग की जो एसओपी जारी की गई उसमें भी इस संबंध में निर्देश दिए गए हैं कि शिक्षक अपनी उपस्थिति व्हाट्सअप के उस ग्रुप में दे जिसमें शिक्षा निदेशक खुद जुड़े हुए हैं। इस निर्देश से शिक्षक आक्रोशित हैं।
समय को लेकर भी विवाद
वहीं 18 जनवरी से स्कूल खोले जाने के निर्देश भी विभाग ने दिए हैं लेकिन इस दौरान प्रार्थना सभा या अन्य कोई सामूहिक गतिविधि नहीं करवाते हुए अध्ययन-अध्यापन कार्य सम्पादित करवाया जाना है। वर्तमान में स्कूल समय 10 से 4 बजे तक का है लेकिन गाइड लाइन के तहत इसे कक्षा 10 व 12 के लिए प्रात: 9.30 से 3.30 एवं कक्षा 9 व 11 के लिए प्रात: 10 से 4 तक किया गया है। जिसको लेकर भी शिक्षक नाखुश हैं।
आदेश निरस्त करने की मांग
राजस्थान शिक्षक संघ (राष्ट्रीय) की प्रदेश महिला मंत्री अरुणा शर्मा और संगठन के प्रतिनिधिमंडल ने संभागीय आयुक्त द्वारा व्हाट्स एप प्रतिदिन उपस्थिति रजिस्टर की फोटो प्रति मांगे जाने को शिक्षकों का अपमान और शिक्षा विभाग के नियमों के विपरीत बताया है। उन्होंने इसे लेकर प्रमुख शासन सचिव को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया कि विभाग में पहले से ही शिक्षकों की उपस्थिति ऑनलाइन चल रही है। उस पर संभागीय आयुक्त के ऐसे आदेश जारी करना सामंतशाही प्रवृत्ति का प्रतीक है। संगठन संभागीय आयुक्त जयपुर के द्वारा वीडियो कॉन्फ्र ेंसिंग में शिक्षको की उपस्थिति को प्रतिदिन व्हाट्सएप पर उच्चाधिकारी को भ ेजने के आदेश को तत्काल निरस्त करवाने की मांग करता है। वहीं संगठन के प्रदेशाध्यक्ष सम्पतङ्क्षसह, प्रदेश महामंत्री अरङ्क्षवद व्यास और प्रदेश संगठन मंत्री प्रहलाद शर्मा ने कहा कि विभाग नित नए आदेश जारी कर शिक्षकों को परेशान कर रहा है। संगठन ऐसे मनमाने आदेश निकालने की प्रवृत्ति पर अंकुश लगाने की मांग करता है। साथ ही समय परिवर्तन के आदेश में तत्काल संशोधन करने और व्हाट्सएप पर उपस्थिति मांगने के संभागीय आयुक्त के आदेश को तत्काल निरस्त करवाकर शिक्षकों को राहत प्रदान करने की मांग करता है। इसके साथ ही यह भी कहा है कि स्कूल में अध्ययनरत विद्यार्थियों के कोर्स को पहले ही कम किया जा चुका है। ऐसे में स्कूल के समय में बदलाव का कोई औचित्य नहीं है।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned