scriptTeenager hanged her life in Jhalana's Shiv Colony | पढ़ाई के लिए टोकना इतना खटका कि दे दिया मौत का झटका | Patrika News

पढ़ाई के लिए टोकना इतना खटका कि दे दिया मौत का झटका

suicide : झालाना की शिव कॉलोनी में किशोरी ने फंदे से लटक दे दी जान, मामूली सी बात पर तोड़ दी अपने जीवन की डोर

जयपुर

Published: April 21, 2022 02:24:06 pm

पढ़ ले...नहीं तो फेल हो जाएगी। बस यही तो कहा था। लेकिन हमें क्या मालूम था उसे मामूली सी बात भी चुभ जाएगी और जो सपने में भी नहीं सोचा वो कर बैठेगी। यह कहते-कहते करमा की मां सुबकने लगी। पिता भी रोते-रोते हर आने वाले से यही दोहरा रहे थे कि खुद तो मर गई लेकिन हमें भी तड़पने की सजा दे गई। तभी दोनों दहाड़े मारते हुए रूहांसे गले से बोले कहां चली गई तू। यह नजारा था झालाना इलाके स्थित घर का जहां बुधवार रात एक किशोरी ने फंदे से लटक जान दे दी। माता-पिता का पढ़ाई के लिए टोकना उसे इतना नागवार गुजरा कि उसने तैश में आकर मौत को गले लगा लिया। आत्महत्या की इस वारदात के बाद शिव कॉलोनी में सन्नाटा पसरा पड़ा है। गांधी नगर थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।
आत्महत्या करने वाली करमा मीणा (16) 11वीं की छात्रा थी। पुलिस ने बताया कि बुधवार दोपहर को माता-पिता ने करमा को पढ़ाई के लिए टोका था। इसके बाद वह खाना खाकर कमरे में चली गई और फिर बाहर ही नहीं निकली। रात तक जब वह बाहर नहीं आई तो परिजनों ने उसके कमरे जाकर देखा तो वे सन्न रह गए। किशोरी फंदे से लटकी हुई थी। उसे तुरंत नीचे उतार परिजन ही एसएमएस अस्पताल ले गए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने तहकीकात की। बताया जा रहा है कि उसके कमरे से अभी कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।
पढ़ाई के लिए टोकना इतना खटका कि दे दिया मौत का झटका
फाइल फोटो
वो तो होशियार थी

बेटी करमा की मौत ने पूरे परिवार को हिला कर रख दिया। हर किसी के आंख में आंसू थे। एक सवाल भी था कि अगर उसे कोई परेशानी थी तो वह बता सकती थी। पढऩे में भी वह होशियार थी। ऐसी कोई बात भी नहीं हुई जिसके कारण इतना बड़ा कदम उठाना पड़ा। आस-पास के लोग भी करमा की तारीफ कर रहे थे, उनका कहना था बिटिया सभी से स्नेह रखती थी। बड़ों का सम्मान करती थी।
दोनों पक्षों में बातचीत जरूरी

बच्चों में अभी आत्महत्या के केस आ रहे हैं। इसके पीछे बड़ा कारण है टीनेजर्स में गुस्सा भरा पड़ा है। जरा सी डांट पर भी उन्हें लगता है कि माता पिता उनकी भावनाएं समझना नहीं चाहते। इससे बचने के लिए अभिभावकों को बच्चों से बात करनी चाहिए। खासकर एक ऐसा समय चुन ले जिसमें दोनों एक-दूसरे से खूब शेयर कर सकें। बच्चों की हर बात सुनें और उन्हें प्यार से समझाएं।
डॉ. अनिता गौतम, मनोचिकित्सक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Thailand Open: PV Sindhu ने वर्ल्ड की नंबर 1 खिलाड़ी Akane Yamaguchi को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगहIPL 2022 RR vs CSK Live Updates: रोमांचक मुकाबले में राजस्थान ने चेन्नई को 5 विकेट से हरायासुप्रीम कोर्ट में अपने लास्ट डे पर बोले जस्टिस एलएन राव- 'जज साधु-संन्यासी नहीं होते, हम पर भी होता है काम का दबाव'ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनCBI रेड के बाद तेजस्वी यादव ने केंद्र सरकार पर कसा तंज, कहा - 'ऐ हवा जाकर कह दो, दिल्ली के दरबारों से, नहीं डरा है, नहीं डरेगा लालू इन सरकारों से'Ola-Uber की मनमानी पर लगेगी लगाम! CCPA ने अनुचित व्यवहार के लिए भेजा नोटिस, 15 दिन में नहीं दिया जवाब तो हो सकती है कार्रवाईHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.