मानसून विदा, अब रात के पारे में गिरावट शुरू, होने लगा मौसम का मिजाज ठंडा

Temperature Down in Rajasthan: प्रदेश के उत्तर पश्चिमी इलाकों से दक्षिण पश्चिमी मानसून ( Monsoon 2019 ) विदा होने के साथ ही अब मौसम में भी ठंडक ( Temperature Down in Rajasthan ) घुलने लगी है। हालांकि उत्तर पूर्व के कुछ भागों में अब भी मानसून सक्रिय हो रहा है...

जयपुर। प्रदेश के उत्तर पश्चिमी इलाकों से दक्षिण पश्चिमी मानसून ( Monsoon 2019 ) विदा होने के साथ ही अब मौसम में भी ठंडक ( Temperature Down in Rajasthan ) घुलने लगी है। हालांकि उत्तर पूर्व के कुछ भागों में अब भी मानसून सक्रिय हो रहा है। बादलों की आवाजाही पूर्वी राजस्थान में बनी हुई है और अगले चौबीस घंटे में पूर्वी इलाकों में छिटपुट बौछारें ( Rain in Rajasthan ) गिरने की संभावना मौसम विभाग ने जताई है। वहीं अगले दो दिन में पूर्वी राजस्थान से भी मानसून विदा होने की संभावना मौसम विभाग ने जताई है। प्रदेश के साथ पंजाब, हरियाणा और दिल्ली राज्यों से भी मानसून ने विदाई ले ली है।

बीते चौबीस घंटे में प्रदेश के अधिकांश इलाकों ( Rajasthan Weather Forecast ) में दिन के तापमान में बढ़ोतरी दर्ज हुई तो रात के तापमान में गिरावट होने लगी है। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो हिमालय तराई क्षेत्र में सक्रिय एंटी साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम के कारण विंड पैटर्न में बदलाव होने व दिन में उत्तर पश्चिमी दिशा से आ रही हवा के कारण अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी हुई है। हालांकि हवा में नमी ज्यादा होने के कारण रात में पारे में गिरावट होने पर रात में मौसम का मिजाज ठंडा होने लगा है।

राजधानी जयपुर ( Jaipur Weather Forecast ) में आज सुबह छह बजे अधिकतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ है। स्थानीय मौसम केंद्र के अनुसार शहर में अगले 24 घंटे में छितराए बादल छाए रहने व दिन के तापमान में एक दो डिग्री सेल्सियस तक बढ़ोतरी होने की संभावना है।

मानसून विदा फिर भी छलक रहा बीसलपुर
राजधानी जयपुर की पेयजल लाइफ लाइन बीसलपुर डेम ने इस बार पानी की आवक के सभी रेकॉर्ड तोड़ दिए हैं। डेढ़ महीने से ज्यादा दिनों तक डेम से पानी की निकासी हुई है लेकिन अब जल्द ही डेम के खुले गेट बंद करने की तैयारी शुरू हो गई है। आज सुबह डेम का एक गेट एक फीट उंचाई तक खुला है और डेम से प्रति सैकंड 1502 क्यूसेक पानी की निकासी लगातार की जा रही है। लेकिन दूसरी तरफ त्रिवेणी में अब पानी का बहाव 1.65 मीटर उंचाई पर आ गया है जिसके कारण डेम में भी पानी की आवक अब कम होने लगी है। जल संसाधन विभाग के अधिकारियों के अनुसार इस सप्ताह में डेम के खुले गेट बंद करने पर विचार हो रहा है। सहायक नदियों में भी पानी का बहाव अब सामान्य होने लगा है जिसके कारण त्रिवेणी में भी जलस्तर धीमी रफ्तार से घटने पर बीसलपुर डेम में भी पानी की आवक कम हो गई है।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned