अचानक ज्यादा भागदौड़ से भी होता है टखने में दर्द

पैरों का निचला हिस्सा मोडऩे में तकलीफ हो या चलने-फिरने में चोट लगनेे जैसा महसूस हो तो यह अकिलिस टेंडन की समस्या हो सकती है।

By: Archana Kumawat

Updated: 24 Dec 2020, 07:56 AM IST


हाल ही बॉलीवुड एक्टर अनिल कपूर ने इंस्टाग्राम पर अपना एक वीडियो शेयर करते हुए बताया कि वे पिछले 10 सालों से अकिलिस टेंडन से परेशान थे, जिसे उन्होंने बिना सर्जरी ठीक कर लिया। जानते हैं क्या है अकिलिस टेंडन और इसके बचाव के उपाय-
क्या है अकिलिस टेंडन
अकिलिस टेंडन ऊतकों से बनी एक पट्टी होती है, जो मांसपेशियों को बैक काल्फ और हील बोन से जोड़ता है। अकिलिस टेंडन को ज्यादा स्ट्रेच करने या इसके फटकर टूट जाने से एडी के निचले हिस्से में तेज दर्द होता है। इस वजह से चलने में परेशानी होती है।

हड्डी बढऩा भी हो सकती है वजह!

यूरिक एसिड का बढऩा, गलत फुटवियर पहनने, रुमेटॉइड आर्थराइटिस, हड्डी का बढ़ जाना, चोट लगना, अचानक अपनी एक्टिविटी को बढ़ा देना जैसे लंबा दौडऩा, बहुत कूदना आदि से रेट्रोकलकैनियल बर्साइटिस हो सकता है, जिसमें टेंडो अकिलिस जहां एड़ी हड्डी से जुड़ती है,वहां सूजन आ जाती है।

दर्द के साथ सूजन आना
एड़ी में दर्द के साथ सूजन हो। पैरों का निचला हिस्सा मोडऩे में तकलीफ हो या चलने-फिरने में चोट लगनेे जैसा महसूस हो तो यह अकिलिस टेंडन की समस्या हो सकती है। पूरी तरह से टेंडन टूट जाए तो सर्जरी विकल्प है लेकिन आंशिक क्षति में फिजियोथैरेपी लाभ देगी।

एक्टिविटी में बदलाव करें
लक्षणों के आधार पर सूजन को कम किया जाता है। साथ ही एक्टिविटी में बदलाव, फुटवियर बदलने, सिकाई, विटामिन सप्लीमेंट लेने से राहत मिल सकती है। स्टेरॉइड या प्लेटलेट्स रिच प्लाज्मा का इंजेक्शन भी विकल्प हैं।

Archana Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned