लॉकडाउन में प्रदेश का टैक्सटाइल उद्योग संकट में

उद्योग लॉक और बाजार डाउन, कार्यशील पंूजी का बड़ा संकट

उद्योग वापस चलाने के लिए बिना ब्याज की कार्यशील पूंजी की 'संजीवनीÓ की जरूरत
सुरेश जैन
भीलवाड़ा . लॉकडाउन में प्रदेश का टैक्सटाइल उद्योग संकट में है। चार हजार करोड़ प्रतिमाह के टर्नओवर वाले उद्योग बन्द होने से डेढ़ लाख श्रमिकों के सामने रोजगार का संकट खड़ा हो गया है। उद्योग वापस चलाने के लिए बिना ब्याज की कार्यशील पूंजी की 'संजीवनीÓ की जरूरत है। सरकार कार्यशील पंूजी की मदद करे तो भी स्थिति सामान्य होने में कम से कम छह माह लगेंगे।

By: Sudhir Bile Bhatnagar

Published: 07 May 2020, 04:43 PM IST

भीलवाड़ा, किशनगढ़ बालोतरा, पाली, जसोल, बिठूजा, जोधपुर में 2375 टेक्सटाइल इकाइयां हैं। पाली व बालोतरा में कॉटन व पॉपलिन का उत्पादन होता है। भीलवाड़ा में पीवी सूटिंग का कपड़ा बनता है। बालोतरा में प्रोसेसिंग इकाइयां भी हैं। प्रदेश की टेक्सटाइल इकाइयों में उत्पादन शुरू नहीं हो सका है। भीलवाड़ा में कुछ फैक्ट्रियों में उत्पादन शुरू हुआ, वह भी निर्यात ऑर्डर पूरे करने के लिए।
बड़ा संकट: टैक्सटाइल उद्योग पर बड़ा संकट तरलता (कार्यशील पंूजी) का है। मशीनों आदि की सार-संभाल भी नहीं हुई। कुछ उद्योगों को पुन: उत्पादन की मंजूरी मिली लेकिन सरकार की शर्तें पूरी नहीं कर पा रहे। भीलवाड़ा में जिन फैक्ट्रियों में उत्पादन शुरू हुआ, उनके भी वापस बंद होने का खतरा है। यहां साल में 8-9 माह तक स्कूल यूनिफॉर्म का सीजन चलता है और 20 करोड़ मीटर कपड़ा बनता है मगर इस बार स्कूल खुलने का ही पता नहीं है। त्योहारों को लेकर भी असमंजस है।
कितना हुआ नुकसान
शहर इकाइयां मासिक टर्नओवर नुकसान
भीलवाड़ा 700 1700 2500
पाली 560 500 700
बालोतरा 500 800 1100
अन्य 325 1000 1400
(टर्नओवर और नुकसान करोड़ में)
ये होंगी समस्याएं
बंद फैक्ट्रियों में सुरक्षा के लिए अतिरिक्त गार्ड का खर्च।
उद्योगों में बिजली मीटर चालू। फिक्स चार्ज वसूल रही सरकार।
श्रमिक ठाले बैठे हैं। वेतन व आजीविका का संकट।
ऋण ब्याज स्थगित, माफ नहीं।
कॉटन के धागे व कपड़ा खराब होने का खतरा है।

बड़ा राहत पैकैज देना होगा
टैक्सटाइल उद्योग तब ही चल सकेंगे, जब पूरी चेन शुरू होगी। सरकार को बड़ा राहत पैकैज देना होगा, अन्यथा टैक्सटाइल उद्योग समाप्त हो जाएगा।
आरके जैन, महासचिव, मेवाड़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स

Sudhir Bile Bhatnagar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned