शहरवासियों के सैर-सपाटे के लिए निखरने लगी द्रव्यवती नदी

अनलॉक में फिर से सौंदर्यीकरण का कार्य शुरू

By: SAVITA VYAS

Published: 30 Dec 2020, 01:00 PM IST

जयपुर। गुलाबीनगर के बहुआयामी प्रोजेक्टस में से एक द्रव्यवती नदी (अमानीशाह नाला) के सौंदर्यीकरण का काम अब अनलॉक के दौर में फिर से शुरू हो चुका है। जेडीए और टाटा समूह द्रव्यवती नदी के सौंदर्यीकरण का काम कर रहा है। इसके तहत टायलेट्स बनाने, टाइल्स लगाने, स्कल्पचर लगाने व घास लगाने सहित अन्य विकास कार्य करवाए जा रहे हैं। जेडीए अधिकारियों के मुताबिक मार्च तक अधिकांश काम पूरा होने की उम्मीद है, ताकि लोग यहां घूमने आए तो उन्हें बैठने व सैर-सपाटे का मौका मिल सके। स्कल्पचर लगाने के बाद लोग नदी का नजारा देख सकेंगे और सेल्फी भी ले सकेंगे। नदी की निगरानी का पूरा कार्य जेडीए की इंजीनियरिंग विंग कर रही है। अधिकारियों के मुताबिक नए वित्तिय वर्ष में यहां स्मार्ट कॉरिडोर बनाने के लिए बजट राशि भी मिल सकती है।

50 शौचालय बनाए जाएंगे
नदी में ट्रेक से कुछ मीटर की दूरी पर 50 से ज्यादा शौचालय बनाए जाने हैं। इसमें से अब तक 25 शौचालय बन चुके हैं। इसके अलावा हर 500 मीटर की दूरी पर घुमावनुमा लंबी स्लेप लगाकर बैठने की व्यवस्था की है, ताकि कुछ समय खुली हवा में शहरवासी अपना समय बीता सकें। इसके अलावा 100 से ज्यादा स्मार्ट बिन लगाए जाएंगे, जिसमें सेंसर लगे होंगे। इसके साथ ही वालमार्ट लाइटें लगाई जाएंगी। इसके साथ ही क्षतिग्रस्त हुई दीवारें, रैलिंग और टाइल्स को भी दुरुस्त करवाया गया है।

बजट मिलते ही काम ने पकड़ी गति

बजट आने के बाद द्रव्यवती नदी के विकास कार्यों ने गति पकड़ ली है। हालांकि तीन स्थानों पर विवाद को लेकर चल रहे कोर्ट केस के चलते द्रव्यवती अपने मूर्तरूप में अक्टूबर 2021 में आएगी। पहली प्राथमिकता नदी के सौंदर्यीकरण की रहेगी, ताकि द्रव्यवती नदी के विकास कार्य तय डेडलाइन में जुलाई 2021 तक पूरा हो सके।

SAVITA VYAS Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned