मीडिया में जनता को प्रभावित करने की क्षमता: मिमोजा कोकियू


वैश्विक मीडिया परिदृश्य पर अंतराष्ट्रीय वेबिनार आयोजित
ग्रामीण जनता की आवाज को सामने लाए मीडिया

By: Rakhi Hajela

Updated: 03 Apr 2021, 07:34 PM IST



जयपुर, 3 अप्रेल
आईआईएस डीम्ड विश्वविद्यालय के जर्नलिज्म एंड मास कम्यूनिकेशन विभाग की ओर से शनिवार को एक अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया गया। 'वैश्विक मीडिया परिदृश्यÓ विषय पर आयोजित इस वेबिनार में देश.विदेश के मीडिया वक्ताओं ने भाग लिया। इस अवसर पर मारिया वैलेरिया, कम्यूनिकेशन मैनेजर, अर्जेंटीना, मिस टीना, प्रोग्राम डायरेक्टर, सोरोस फाउंडेशन, किर्गिजस्तान, मिमोजा, मीडिया एडवाइजर हाई इंस्पेक्टर ऑफ जस्टिस अल्बेनिया, द हिमालियन टाइम्स के सम्पादकीय सलाहकार राजेश सुदंरम बतौर वक्ता मौजूद थे।
मिस टीना ने किर्गिजस्तान की मीडिया के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि वहां पर खोजी पत्रकारिता की भूमिका अत्यधिक है। वहीं मिमोजा ने अल्बेनिया की मीडिया का किस्सा साझा करते हुए बताया कि किस तरह से वहां की मीडिया ने एकजुट होकर सरकार की ओर से लगाए जा रहे मीडिया नियंत्रण का विरोध किया था और सरकार को अपना फैसला बदलने पर मजबूर कर दिया था। यही वजह है कि वहां की जनता सरकार से ज्यादा पत्रकारों पर भरोसा करती है।
वहीं राजेश सुंदरम ने भारत के पत्रकारों के हालातों का जिक्र करते हुए कहा कि आज का दौर उनके लिए काफी चुनौतीपूर्ण हैं और कोरोना महामारी ने उनकी स्थिति को और भी गंभीर बना दिया है। मारिया वैलेरिया ने को.ऑपरेटिव मीडिया मॉडल्स के बारे में विस्तार से बताया साथ ही सोशल मीडिया की भूमिका पर भी प्रकाश डाला।
ग्रामीण जनता की आवाज को सामने लाए मीडिया: मिस टीना
विश्वविद्यालय में मीडिया की छात्राओं को प्रोत्साहित करते हुए मिमोजा ने कहा कि मीडिया में लोगों को प्रभावित व मदद करने की क्षमता है और इस पेशे में उस हर एक छात्रा को आना चाहिए जो कि एक जिम्मेदार नागरिक है। वहीं इस चर्चा को आगे बढ़ाते हुए मिस टीना ने कहा कि इस क्षेत्र में काम करते हुए पत्रकारों को ग्रामीण जनता की आवाज को सामने लाना चाहिए ताकि उनका भी विकास हो सके। अंत में राजेश ने अपने विचार रखते हुए कहा कि हमें मीडिया की स्वतंत्रता के लिए लडऩा चाहिए और किसी इंसान या संस्था के दबाव में आने की बजाए पत्रकार को स्वयं की आवाज सुननी चाहिए।
इस वेबिनार में आईआईएस विश्वविद्यालय एवं अन्य विश्वविद्यालयों के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग से लगभग 55 छात्राओं ने भाग लिया।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned