20 मार्च को समाप्त हो गया था तुगलकी निर्णयों का सिलसिला

जयपुर. जिस मोहम्मद बिन तुगलक के फैसलों को आज भी तुगलकी निर्णय कहकर याद किया जाता है, उसका निधन 20 मार्च 1351 को हुआ था। तुगलक के बारे में मशहूर था कि उसके निर्णय बिना आगा—पीछा सोचे होते थे और बाद में उनसे जनता परेशान होती थी। इसी तरह 20 मार्च को ही खूंखार लड़ाके के रूप में मशहूर नादिरशाह ने भी दिल्ली सल्तनत पर कब्जा कर दिल्ली में कत्लेआम किया था।

By: Subhash Raj

Updated: 19 Mar 2020, 08:54 PM IST

20 मार्च की भारतीय और विश्व इतिहास की घटनाओं में 1602 में यूनाइटेड डच ईस्ट इंडिया कंपनी की स्थापना। 1615 में मुग़ल बादशाह शाहजहाँ और मुमताज महल के सबसे बड़े पुत्र दारा शिकोह का जन्म। 1814 में विलियम फ्रेडरिक नीदरलैंड के शासक बने। 1904 में सी. एफ. एंड्रूज महात्मा गाँधी के साथ स्वतंत्रता आंदोलन में शामिल होने भारत आए। 1916 में अल्बर्ट आइंस्टीन की किताब जनरल थ्योरी ऑफ रिलेटिवली का प्रकाशन हुआ। 1920 में लंदन से दक्षिण अफ्रीका के बीच पहली उड़ान शुरू हुई। 1956 में ट्यूनिशिया को फ्रांस से आजादी मिली। 1956 में सोवियत संघ ने परमाणु परीक्षण किया। 1966 में भारतीय गायिका अलका याग्निक का जन्म। अमेरिका के राष्ट्रपति निक्सन ने वर्ष 1970 में वियतनाम युद्ध की समाप्ति की घोषणा की। 1970 में भारतीय हॉकी के प्रसिद्ध खिलाड़यिों में से एक जयपाल सिंह का निधन। 1973 में पहले भारतीय गोल्फर अर्जुन अटवाल का जन्म। 1977 में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी लोकसभा चुनाव में पराजित हुईं। 1981 में अर्जेंटीना के पूर्व राष्ट्रपति इसाबेल पेरोन को आठ वर्ष की सजा हुई। 1987 में बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना राणावत का जन्म। 1991 में बेगम खालिदा जिया बांग्लादेश की राष्ट्रपति निर्वाचित हुयी। 1999 में प्रख्यात ब्रिटिश अमूर्त चित्रकार पैट्रिक हेरोन का निधन। 2003 में अमेरिका ने इराक पर हमला शुरू किया। 2010 में गौरैया को बचाने के लिये पहली बार 'विश्व गौरैया दिवस मनाया गया। 2014 में पत्रकार, लेखक और इतिहासकार खुशवंत सिंह का निधन हुआ था।

Subhash Raj
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned