scriptराजस्थान विधानसभा में कल हंगामे के आसार, एक-दूसरे को घेरने के लिए कांग्रेस-भाजपा ने बनाया ये प्लान | There is a possibility of uproar in Rajasthan assembly tomorrow, Congress-BJP made this plan to corner each other | Patrika News
जयपुर

राजस्थान विधानसभा में कल हंगामे के आसार, एक-दूसरे को घेरने के लिए कांग्रेस-भाजपा ने बनाया ये प्लान

राजस्थान विधानसभा में कल भजन सरकार की ओर से बजट पेश किया जाएगा।

जयपुरJul 09, 2024 / 11:35 am

Manish Chaturvedi

जयपुर। राजस्थान विधानसभा में कल भजन सरकार की ओर से बजट पेश किया जाएगा। इस बजट सत्र के दौरान कांग्रेस— भाजपा आमने सामने दिखाई देगी। कांग्रेस की ओर से भाजपा को घेरने के लिए रणनीति तैयार की जा रही है। जयपुर में आज कांग्रेस विधायकों की बैठक होगी। जिसमें विपक्ष की ओर से पेपर लीक, जिलों को हटाने का मामला, जेडीए कार्रवाई, जनकल्याणकारी योजनाओं को बंद करने सहित कई मुद्दों को सदन में उठाने को लेकर रणनीति तैयार की जाएगी।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि भजन सरकार के बजट में जनकल्याणकारी योजनाओं का अभाव रहने की सम्भावना है। भजन सरकार केवल योजनाओं का बंद करने, योजनाओं को सीमित करने, जॉंच कराने, जिलों को खत्म करने में लगी रही। कोई भी ऐसा कार्य जो जनहित में हो, छ: माह में भाजपा की सरकार ने नहीं किया। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार के कार्य आपसी झगड़ों, इस्तीफों की घोषणा, दिल्ली सरकार की परिक्रमा करने तक सीमित रहे हैं। भाजपा ने चुनाव में किसानों को 12 हजार रूपए किसान सम्मान निधि देने का वादा किया था, इसके तहत् 6 हजार रूपये की राशि केन्द्र और 6 हजार रूपए की राशि राज्य सरकार को प्रदान करनी थी। उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार ने केवल दो हजार रूपये सम्मान निधि बढ़ाकर देने की घोषणा की है, किन्तु यह राशि किसानों को कब मिलेगी, इसकी जानकारी राजस्थान सरकार नहीं दे रही है।
इधर, भाजपा ने भी विपक्ष को जवाब देने की तैयारी..

राजस्थान विधानसभा में विपक्ष को जवाब देने के लिए भजन सरकार की ओर से भी विशेष तैयारी की जा रही है। पूर्ववर्ती सरकार की खामियां ढूंढी जा रही है। सभी विभाग के प्रमुख अधिकारियों के पास निर्देश आए है। 6 बिंदुओं के माध्यम से विभागों से जानकारी मांगी जा रही है। पिछली सरकार द्वारा नहीं किए गए कार्यों की सूची बन रही है। जल जीवन मिशन घोटाला व बिजली उत्पादन जैसे अहम मुद्दों की सूची तैयार की जा रही है। पूर्व सरकार के ऐसे फैसलों की भी सूची बन रही है। जिनको लागू होने में लंबा समय लगा। पिछली सरकार के समय की बजट व प्रशासनिक समस्याओं की जानकारी जुटाई जा रही है। विभिन्न एफआईआर व जांच की भी विशेष लिस्ट बनाई जा रही है। ऐसे मुद्दे भी सूची में शामिल किए जा रहे है, जो पिछली सरकार नहीं सुलझा सकी थी। लेकिन भाजपा सरकार ने वह मुद्दे सुलझा लिए है। इन मुद्दों के आधार पर ही भाजपा सरकार विपक्ष को घेरेगी।

Hindi News/ Jaipur / राजस्थान विधानसभा में कल हंगामे के आसार, एक-दूसरे को घेरने के लिए कांग्रेस-भाजपा ने बनाया ये प्लान

ट्रेंडिंग वीडियो