scriptThere will be no need to change school after 8th, 399 government schoo | 8वीं के बाद नहीं होगी स्कूल बदलने की जरूरत, 8वीं के 399 सरकारी स्कूल हुए 12वीं तक | Patrika News

8वीं के बाद नहीं होगी स्कूल बदलने की जरूरत, 8वीं के 399 सरकारी स्कूल हुए 12वीं तक

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बजट घोषणा की अनुपालना में शिक्षा विभाग ने प्रदेश के 399 राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूलों को सीधे राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत करने के आदेश जारी कर दिए हैं। विभाग के इस निर्देश के साथ ही प्रारंभिक शिक्षा से प्रधानाध्यापक के 399 पद, अध्यापक लेवल 2 के 798 और अध्यापक लेवल 1 के 798 यानी कुल 1995 पद समाप्त हो गए हैं।

जयपुर

Published: July 06, 2022 05:09:16 pm

399 राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल क्रमोन्नत
सीधे उच्च माध्यमिक स्कूलों में हुए क्रमोन्नत
राजधानी के 16 स्कूल शामिल
सबसे अधिक बाड़मेर में 47 स्कूल किए गए क्रमोन्नत
इसी सत्र से होगी शुरुआत
क्रमोन्नति के साथ ही प्रारंभिक शिक्षा से कुल 1995 पद समाप्त
इनमें प्रधानाध्यापक के 399 पद शामिल
अध्यापक लेवल 2 के 798 और अध्यापक लेवल 1 के 798 पद समाप्त
जयपुर।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बजट घोषणा की अनुपालना में शिक्षा विभाग ने प्रदेश के 399 राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूलों को सीधे राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत करने के आदेश जारी कर दिए हैं। विभाग के इस निर्देश के साथ ही प्रारंभिक शिक्षा से प्रधानाध्यापक के 399 पद, अध्यापक लेवल 2 के 798 और अध्यापक लेवल 1 के 798 यानी कुल 1995 पद समाप्त हो गए हैं।
इनके स्थान पर अब इन 399 राजकीय उच्च माध्यमिक स्कूलों में प्रधानचार्य के 399 पद, व्याख्याता के 1197,वरिष्ठ अध्यापकों के 1995, अध्यापक लेवल 2 के 1197, अध्यापक लेवल 1 के 798, शारीरिक शिक्षक ग्रेड थर्ड के 399, कनिष्ठ सहायकों के 399 और सहायक कर्मचारियों के 399 पद सृजित होंगे।
इसी सत्र से होंगे आरंभ
क्रमोन्नत किए गए स्कूल इसी सत्र से आरंभ होंगे। स्वीकृति के वर्ष से सुविधा के मुताबिक नवीं, दसवीं एक साथ और आगामी सत्रों में क्रमश: 11वीं और 12वीं की कक्षाएं शुरू की जा सकेंगी। स्कूलों को माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान से मान्यता के लिए कार्यवाही करनी होगी।
राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय से क्रमोन्नत इन स्कूलों में वर्तमान में कार्यरत प्रधानाध्यापक, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में कार्यरत वरिष्ठ अध्यापक को उसके विषय के वरिष्ठ अध्यापक के पद पर समायोजित किया जाएगा। इसी प्रकार राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय में वर्तमान में कार्यरत शारीरिक शिक्षक ग्रेड थर्ड को क्रमोन्नत राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में शारीरिक शिक्षक केे पद पर समायोजित किया जाएगा।
क्रमोन्नत होने वाले राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय में कार्यरत शिक्षक ग्रेड थर्ड लेवल वन और लेवल टू के ऐसे अध्यापक जिनका 6डी में सेटअप परिवर्तन हुआ है उनका समायोजन क्रमोन्नत राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में उनके विषय के स्वीकृत पद पर किया जाएगा। शेष शिक्षक ग्रेड थर्ड लेवल वन और लेवल टू के अध्यापकों को प्रविष्ठि शाला दर्पण में 3बी में की जाएगी और यह अध्यापक 6डी की कार्यवाही और अन्य शिक्षकों के पदस्थापन होने तक क्रमोन्नत स्कूल में कार्य करते रहेंगे और इनका वेतन आहरण पूर्व की तरह ही प्रारंभिक शिक्षा से किया जाएगा।इन स्कूलों में पहले साल में केवल एच्छिक विषय के व्याख्याता ही देय होंगे। अनिवार्य विषयों हिंदी, अंगे्रजी के शिक्षण के लिए व्याख्याता के स्थान पर वरिष्ठ अध्यापक दिए जाएंगे।
कहां कितने स्कूल क्रमोन्नत
अजमेर में 11, अलवर में 23, बांसवाड़ा में 46, बारां में 7, बाड़मेर में 47, भरतपुर में 7, भीलवाड़ा में 10, बीकानेर में 20, चित्तौडगढ़़ में 1, चूरू में 1, दौसा में 7, धौलपुर में 3, डूंगरपुर में 27, श्रीगंगानगर में 1, हनुमानगढ़ मेे 4, जयपुर में 16,जैसलमेर में 7,जालौर में 13,झालावाड़ में 1, जोधपुर में 36, करौली में 6, नागौर मेे 5, पाली में 7, प्रतापगढ़ में 29, राजसमंद में 5, सवाई माधोपुर में 6, सीकर में 1, सिरोही में 3, टोंक में 1, उदयपुर में 47 स्कूलों को क्रमोन्नत किया गया है।
राजधानी के यह स्कूल हुए क्रमोन्नत
राउप्रावि कंवरपुरा,शाहपुरा
राउप्रावि, गांवली, जमवारामगढ़
राउप्रावि पीपलोद, शाहपुरा
राउप्रावि, किशनपुरा, बस्सी
राउप्रावि, पहाडिय़ा सोसायटी, चाकसू
राउप्रावि, सीतारामपुरा, फुलेरा
राउप्रावि, ढाणी गुजरान, विराटनगर
राउप्रावि, देवीतला, जमवारामगढ़
राउप्रावि, खोखावाला, बस्सी
राउप्रावि, गुढासर्जन, आमेर
राउप्रावि, जड़ावता, दूदू
राउप्रावि, बड़ी का बांस, बगरू
राउप्रावि, हीरावाला, बस्सी
राउप्रावि गोपाल$गढ़, जमवारामगढ़
राउप्रावि घाटा, बस्सी
राउप्रावि, खिजुरिया तिवाडिय़ान, बस्सी
8वीं के बाद नहीं होगी स्कूल बदलने की जरूरत,  8वीं के 399 सरकारी स्कूल हुए  12वीं तक
8वीं के बाद नहीं होगी स्कूल बदलने की जरूरत, 8वीं के 399 सरकारी स्कूल हुए 12वीं तक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

अरविंद केजरीवाल ने जारी किया मिस्ड कॉल नंबर, भारत को नंबर वन देश देखने वालों से की घंटी बजाने की अपीलCBI Raids Manish Sisodia House Live Updates: मनीष सिसोदिया के घर CBI रेड के विरोध में प्रदर्शन कर रहे AAP कार्यकर्ताओं पुलिस ने हिरासत में लियाबंगाल, महाराष्ट्र में भी ED के छापे, उनके सामने तो मैं तिनका हूँ, 'सांसद अफजाल अंसारी ने दी चुनौती- पूर्वांचल हमारा ही रहेगा'बिलकिस बानो केसः 6000 से अधिक सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सुप्रीम कोर्ट से दोषियों की रिहाई को रद्द करने की मांग कीMumbai: दही हांडी उत्सव के बीच मुंबई में बड़ा हादसा, बोरीवली इलाके में चार मंजिला इमारत ढही, कई लोगों के दबे होने की आशंकाक्यों मनीष सिसोदिया के घर पर CBI कर रही छापेमारी? जानिए क्या है पूरा मामलाअमित शाह का भोपाल दौरा, चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बनाएंगे खास रणनीतिJanmashtami 2022: मुंबई और ठाणे में इन जगहों पर लगी है सबसे उंची दही हांडी, 10 थर लगाने पर 21 लाख का इनाम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.