ये कर्मचारी अभी नहीं होंगे आरपीएमएफ में शामिल

Rajasthan Vidhansabha : संसदीय कार्य मंत्री शांति कुमार धारीवाल ने शुक्रवार को विधानसभा में साफ किया कि..

जयपुर

Rajasthan Vidhansabha : संसदीय कार्य मंत्री शांति कुमार धारीवाल ने शुक्रवार को विधानसभा में साफ किया कि एक अप्रैल 2004 या उसके बाद राजकीय सेवा में नियुक्त राज्य कर्मचारियों को आरपीएमएफ यानि राजस्थान पेंशनर्स मेडिकल फंड योजना में शामिल करने का अभी कोई विचार नहीं है। धारीवाल शून्य काल में विधायक इंदिरा की ओर से इस संबंध में लाए गए ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर वित्त मंत्री की ओर से अपना वक्तव्य दे रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की ओर से सभी प्रदेशवासियों जिनमें राज्य कर्मचारी भी शामिल हैं, उनको राजकीय अस्पतालों में चिकित्सा सुविधा मुक्त उपलब्ध है। जिसमें मुख्य जांचे एवं दवाइयां शामिल है। मंत्री ने कहा कि राज्य कर्मचारी एवं उन पर आश्रित परिवारजनों के लिए राज मेडिक्लेम पॉलिसी लागू की गई है। जिसमें चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाई जाती है। उन्होंने बताया कि उक्त मेडिक्लेम पॉलिसी के तहत प्रति कर्मचारी एवं नियमानुसार उस पर आश्रित परिवार जन हेतु 3 लाख की बीमा राशि निर्धारित है। उन्होंने कहा कि प्रति कर्मचारी एक हजार रुपए तक प्रीमियम राशि राज्य सरकार की ओर से जमा कराई जाती है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned