scriptभारत जोड़ो सेतु पर ये दाग अच्छे नहीं हैं… एक्सपेंशन ज्वॉइंट खुला, विद्युत बॉक्स भी नहीं बंद, रात को लाइट भी नहीं जलती | Patrika News
जयपुर

भारत जोड़ो सेतु पर ये दाग अच्छे नहीं हैं… एक्सपेंशन ज्वॉइंट खुला, विद्युत बॉक्स भी नहीं बंद, रात को लाइट भी नहीं जलती

भारत जोड़ो सेतु को अभी शुरू हुई बमुिश्कल 20 माह ही हुए हैं, लेकिन निर्माण कार्य में खामियां दिखाई देने लगी हैं। एक्सपेंशन ज्वाॅइंट खुल गया है। विद्युत बॉक्स भी खुले हुए हैं। एक बार रम्बल स्ट्रिप लगाने के बाद जेडीए इनको दोबारा नहीं लगा पाया। रात को आधी एलिवेटेड रोड अंधेरे में डूबी रहती है।

जयपुरJun 02, 2024 / 12:37 pm

Ashwani Kumar

जयपुर। उद्घाटन के 20 माह बाद ही भारत जोड़ो सेतु में खामियां नजर आने लगी हैं। एक जगह तो एक्सपेंसन ज्वॉइंट की खुल गया है। इससे कभी भी हादसा हो सकता है। एक्सपर्ट की मानें तो जब कोई डिफेक्ट होता है तो तब भी ये होता है।
इतना ही नहीं, कई जगह विद्युत बॉक्स ही खुले पड़े हैं। विद्युत तार के लिए लगाए गए पाइप ज्यादातर जगह क्षतिग्रस्त हो चुके हैं। जबकि, इसके निर्माण में जेडीए ने 230 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। स्थिति यह है सोडाला तिराहे के पास आचार्य तुलसी सेतु से भारत जोड़ो सेतु मिल रहा है, वहां पर रम्बल स्ट्रिप खराब हो चुकी हैं। जेडीए इनको भी नहीं बदलवा पाया है।
हैरानी की बात यह है कि पानी निकासी के लिए जो जालियां लगी हुईं हैं, उनमें मिट्टी भरी हुई है। ऐसे में जब बारिश होगी तो एलिवेटेड रोड पर ही जलभराव होगा। और एक्सपेंशन ज्वॉइंट से ही पानी नीचे आएगा।
जेडीए ने इस एलिवेटेड रोड का लोकार्पण छह अक्टूबर, 2022 में कराया था। इस एलिवेटेड रोड का काम पांच वर्ष देरी से पूरा हुआ था। वर्ष 2018 में इसका निर्माण कार्य जेडीए को पूरा करना था।
तेज गति से आते वाहन

भारत जोड़ो सेतु से आचार्य तुलसी सेतु पर वाहन तेजी से आते हैं। भारत जोड़ो सेतु पर जो कैट आई लगाईं गई थीं, उनमें से कई तो उखड़ गईं और कई खराब हो चुकी हैं। जबकि, यहां मोड़ है और वाहन तेज गति से आते हैं। ऐसे में हादसे का डर बना रहता है।

Hindi News/ Jaipur / भारत जोड़ो सेतु पर ये दाग अच्छे नहीं हैं… एक्सपेंशन ज्वॉइंट खुला, विद्युत बॉक्स भी नहीं बंद, रात को लाइट भी नहीं जलती

ट्रेंडिंग वीडियो