कटारिया बोले यह तो चमत्कार, पूरे मामले की जांच हो

 

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा के रिश्तेदारों के आरएएस इंटरव्यू में आए अंकों ने आरपीएससी पर उठाए सवाल

By: Arvind Singh Shaktawat

Published: 21 Jul 2021, 08:15 PM IST

अरविन्द सिंह शक्तावत
जयपुर।
कांग्रेस के प्रदेा अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा के रिश्तेदारों के आरएएस इंटरव्यू में 80-80 अंक आने के मामले में भाजपा ने सवाल उठाए हैं। नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने तंज कसते हुए कहा कि यह तो चमत्कार ही लगता है। ऐसा पहले तो कभी नहीं देखा कि एक ही परिवार के इतने लोगों को इतने अधिक नंबर आए हों। ये तो जांच का विषय है।
प्रदेश भाजपा कार्यालय में बुधवार को कटारिया ने पत्रकारों से कहा कि इस मामले में सीधा आरोप लगाना तो उचित नहीं होगा, लेकिन चमत्कार की जांच हो तो जरूर कुछ ना कुछ निकलेगा। उन्होंने कहा कि टॉपर को तो 77 अंक मिले और रिश्तेदारों को ज्यादा नम्बर मिले। अयोग्य को योग्य बना दिया जाता है और योग्य को अयोग्य बना दिया जाता है। मुख्यमंत्री से आग्रह है कि आरपीएससी के इस मामले की जांच करवाई जाए और जिन्होंने गलती की उनको दंडित किया जाए, जिससे आरपीएससी की वर्र्किंग सबके साथ ईमानदारी से काम हो। जो गड़बड़ी कर रहे हैं, उन्हें पद मुक्त किया जाए। एक उच्च पुलिस अधिकारी, जो आरपीएससी में है। उनकी ईमानदारी की भी कलई खोल कर रख दी है।

निरपेक्षता की बात करने वाली सरकार सामने आकर स्पष्ट करे- पूनिया
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने इस मामले में कहा कि निरपेक्षता की बात करने वाली सरकार सामनेे आकर स्पष्ट करे कि ये क्या मामला है। इस मामले में गोविन्द सिंह डोटासरा को ही सब कुछ स्पष्ट करना चाहिए। टेलेंटेड हो सकता है कोई भी, लेकिन टेलेंट की सही तरीके से जांच हो और सच सामने आना चाहिए। राजनीतिक परिवार से इस तरह के सलेक्शन होते हैं तो सवाल उठते ही हैं।

ये संयोग है या प्रयोग, यह तो खुदा जाने- राठौड़
उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने ट्वीट कर कहा कि स्वयं के साथ जब सत्ता आती है तो प्रतिभागी भी साथ लेकर आती है और परिणाम भी। ये संयोग है या प्रयोग, यह तो खुदा ही जाने। ना जाने कब क्या हो जाए।

@ArvindSinghJpr

Arvind Singh Shaktawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned