10 साल में हजारों युवाओं व ट्रक ड्राइवरों को बनाया नशे का गुलाम

नशीली दवाइयों के तस्करों ने उगला, तीन करोड़ की दवाएं लगाने जा रहे थे ठिकाने, इससे पहले ही पकड़े गए

By: Abrar Ahmad

Updated: 07 Mar 2020, 06:47 PM IST

जयपुर. तस्कर पिछले 10 साल में जयपुर जिले में हजारों युवाओं, मजदूरों व ट्रक चालकों को नशीली दवाइयों का गुलाम बना चुके हैं। तीन करोड़ की नशीली दवाइयों के साथ दो दिन पहले जयपुर ग्रामीण पुलिस की गिरफ्त में आए तस्करों से यह जानकारी हाथ लगी है। पुलिस ने बताया कि लाइसेंसशुदा मेडिकल स्टोर की आड़ में कारोबारी 10 साल से नशीली दवाइयां बेचकर लोगों को नशे का आदी बना रहे थे। इनमें से एक गोली के सेवन से भी सामान्य व्यक्ति करीब 12 घंटे तक नशे की हालत में रहता है। वे हमेशा युवाओं व ट्रक चालकों को निशाना बनाते थे। पता चला है कि वे अब तक हजारों लोगों को नशे का आदी बनाकर परमानेंट ग्राहक बना चुके हैं। मामले में पांच स्थानों पर दबिश देकर तीन प्रकरण दर्ज किए गए हैं। शाहपुरा, प्रागपुरा, सरूंड व कोटपूतली थानों की टीम को कार्रवाई के लिए लगाया गया था। ऑपरेशन हाईवे के तहत अभी तक 42 कार्रवाई की जा चुकी है।

ये दवाइयां मिलीं

सिम्पलेक्स, ट्रेवॉन, प्रोजोलम, ट्रोमानिल एक्स्ट्रा, ट्रोमानिलसेमी, स्पास्मो प्रोक्सीवोनप्लस, लोमोटिल, डिफेनोक्सिलेट, महारेक्स, कॉन्ट्रामल-100 बरामद की हैं। इनमें कैप्सूल, टेबलेट, सिरप और इंजेक्शन शामिल हैं। इनकी कुल संख्या 1,87,609 है।

Abrar Ahmad Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned