रईस बनने के लालच में छापे नकली नोट,तीन आरोपी गिरफ्तार, सउदी अरब तक जुड़े तार

मास्टरमाइंड मुबारिक जयपुर में किराए के फ्लैट में छापता था नोट

By: vinod sharma

Published: 05 Jul 2020, 07:08 PM IST

सीकर. नकली नोट छापने का मास्टरमाइंड मुबारिक है। मुबारिक झुंझुनूं के बिसाउ में टाईं का रहने वाला है। बिसाउ के टाईं से लेकर जयपुर और सउदी अरब तक नकली नोट चलाने के तार जुड़े हैं। मुबारिक ने नकली नोटों को छापने के लिए जयपुर में ही किराए पर फ्लैट ले रखा था। पहले 100 फिर 200 रुपए के नोट छापने शुरू किए। नोट बाजार में चलने लगे तो विश्वास बढ़ गया। इसके बाद जल्द रईस बनने के लालच में दो हजार के नोट छापने लगा। गांव के ही आसिफ व मेजर खां को साथ में मिलाया। नोट छापने के लिए ही जयपुर में फ्लैट पर जाते थे। पकड़े जाने के डर से जयपुर में नोट नहीं चलाने की योजना बनाई। तीनों एक साथ ही पिं्रटिंग मशीन और कम्प्यूटर पर काम करते थे। जयपुर से ही प्रिंटिंग मशीन और कम्प्यूटर का सेटअप लेकर लगाया। जयपुर से ही नोट छापने के लिए पेपर लेकर आते थे।

नोटों की हुबहू नकल की.....
सदर थानाधिकारी पुष्पेंद्र सिंह ने बताया कि मुबारिक अभी फरार है। उसके पकडऩे के लिए जयपुर, झुंझुंनूं में दबिश दे रहे है। उन्होंने बताया कि आसिफ, मेजर व अभिषेक को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से तीनों को जेल भेज दिया गया। उन्होंने बताया कि तीनों के पास से 3.60 लाख रुपए के नकली नोट बरामद किए गए थे। इनके जयपुर के अलावा कहां पर ठिकाने है और कहां-कहां पर नकली नोट चलाए गए। पूछताछ की जा रही है।

पांच महीने से छाप रहे नकली नोट....
जांच में सामने आया है कि मुबारिक, आसिफ व मेजर खां तीनों मिलकर पिछले पांच महीने से नकली नोट बना रहे है। तीनों नकली नोट बनाने की योजना में शामिल थे। अभिषेक स्वीगी में काम करता था। इन्होंने अभिषेक को 40 हजार रुपए का लालच देकर गिरोह में शामिल किया। 10 लाख रुपए के नकली नोटों के साथ पकड़े गए रफीक, असलम व रफीक केवल मोहरें ही थे। उन्हें नकली नोटों के बारे में कोई जानकारी नहीं थी। उनके पास से 10 लाख के नकली नोट बरामद हुए थे। असलम के भाई रियाज ने 10 लाख रुपए सउदी से भिजवाए थे। जिन्हें आसिफ व मेजर ने मिलकर नकली नोट थमा दिए।

Show More
vinod sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned