बैंक कैश वैन लूटने वाले मुख्य आरोपी सहित तीन गिरफ्तार

लूटे गए 31 लाख 50 हजार रुपए बरामद

By: Lalit Tiwari

Updated: 19 Oct 2020, 12:45 AM IST

शिप्रापथ इलाके में रीको एरिया स्थित आईसीआईसीआई बैंक के बाहर रविवार को दिन दहाड़े हथियार बंध बदमाश कैश वैन गार्डों पर फायरिंग कर 31.50 लाख रुपए लूटने के मामले में पुलिस ने महज 30 घंटे में वारदात का खुलासा कर दिया। पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपी सहित तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उनके कब्जे से लूटी गई पूरी रकम, दो पिस्टल, चार मैगजीन और 20 कारतूस बरामद किए हैं।
एडिशनल कमिश्नर (प्रथम) अजयपाल लाम्बा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी प्रजापति विहार मुहाना निवासी गौरव सिंह (37) पुत्र सुरेन्द्र, मोहन बाबा नगर, बदरपुर नई दिल्ली निवासी विपिन कश्यप (25) पुत्र रणपाल सिंह और सौगन्ध सिंह (27) पुत्र मोहर सिंह जाटव हैं। पुलिस ने बताया कि लुटेरे
आईसीआईसीआई बैंक के बाहर कैशवैन लूटकर बदमाश गाड़ी से फरार हुए। गाड़ी उन्होंने पटेल नगर में छोड़ी और यहां से करीब 50 मीटर जाकर पहले से चोरी की गई खड़ी की गई बाइक को उठाया। उसके बाद बदमाश दादूदयाल नगर पहुंचे। लुटेरे दादूदयाल नगर में अपने परिचित के मकान पर पहुंचे। यहां पर बाइक खड़ी कर दी और रुक गए। इस दौरान जिले की डीएसटी टीम लगातार चार किलोमीटर तक बाइक का पीछा करते हुए परिचित के मकान तक पहुंच गई। टीम ने देखा कि बाइक मकान के अंदर ही खड़ी है।कार्रवाई करते समय टीम ने संदिग्ध मकान को घेरा उसी समय तीन संदिग्ध व्यक्ति कंधे पर बैग लटकाए हुए मकान के बाहर निकलकर सामने खड़ी एक हरियाणा नम्बर की स्कोर्पियों में बैठने का प्रयास करने लगे। पुलिस बल की घेराबंदी देखकर उनमें से दो व्यक्तियों ने पिस्टल निकालकर पुलिस दल पर तान दी। बुलेट प्रूफ जैकेट और हथियारबंद पुलिस बल ने उन दोनों बदमाशों को दबोच लिया। जिनमें एक गौरव सिंह जिसके पास एक देशी पिस्टल, 10 कारतूस तथा 11 लाख 50 हजार रुपए लूट की राशि कंधे पर लटके बैग में मिली। इसी प्रकार दूसरे अपराधी विपिन कश्यप के कब्जे में एक पिस्टल 10 कारतूस और 20 लाख रुपए नगद बैग से बरामद हुए। स्कोर्पियो चालक सौगन्ध सिंह मिला जिनमें की गई पूछताछ के आधार पर गौरव सिंह और विपिन कश्यप को लूट की घटना का मुख्य अभियुक्त होने और चालक सौगन्ध सिंह को षड़यंत्र में शामिल होने के कारण गिरफ्तार कर स्कोर्पियों गाड़ी बरामद कर ली। इस मामले में एक बदमाश जो ऑटो में बैठकर फरार हुआ था, टीम उसकी तलाश कर रही है। बताया जा रहा है कि वह दिल्ली में पहुंच गया है।


इसलिए रची थी बदमाशों ने साजिश-
पुलिस पूछताछ में मुख्य आरोपी गौरव सिंह बदरपुर दिल्ली में ढाबा चलाने का काम करता है। जिससे शराब की लत और सूदखोरी के कारण कर्जा हो जाने पर गौरव सिंह ने अपने साथी विपिन कश्यप और एक अन्य के साथ मिलकर लूट की योजना बनाई। तथा लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए तीन हथियार और एक गाड़ी होण्डा बीआरवी फाइनेंस कंपनी से अन्य किसी व्यक्ति के जरिए खरीदी तथा जयपुर आकर विभिन्न बैंकों की रैकी की और दो अलग अलग समय घटना को अंजाम देने कीा योजना बनाई। गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर अन्य वारदातों का पता लगा रही हैं।

Show More
Lalit Tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned