scriptThree miscreants of gangster lawrence gang arrested in jaipur crime | लॉरेंस गैंग के तीन बदमाश जयपुर में गिरफ्तार, भारी हथियारों के साथ आए थे यहां वारदात करने | Patrika News

लॉरेंस गैंग के तीन बदमाश जयपुर में गिरफ्तार, भारी हथियारों के साथ आए थे यहां वारदात करने

अवैध हथियार के साथ तीन हार्डकोर बदमाश गिरफ्तार, जयपुर में फरारी के दौरान लूट की योजना बना रहे थे, भांकरोटा थाना पुलिस की कार्रवाई में धरे गए बदमाश

जयपुर

Updated: June 23, 2022 08:22:22 am

जयपुर। सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद देश के कई राज्यों में चल रहीं लॉरेंस गैंग के सदस्यों की गिरफ्तारियां चल रही है। जिसके चलते वो अन्य राज्यों में भागने लगे हैं। ऐसे ही भागते—भागते गैंग के तीन सदस्य जयपुर में पहुंच गए। वे यहां भी वारदात करने की फिराक में थे। इससे पहले ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने आरोपियों से काफी हथियार भी बरामद किए हैं। आरोपियों को कोर्ट ने दो दिन के पुलिस रिमांड पर सौंपा है।
lawrence
पुलिस उपायुक्त पश्चिम ऋचा तोमर ने बताया कि मंगलवार रात दस बजे गश्त के दौरान भांकरोटा थाना पुलिस टीम को महापुरा अंडरपास के नीचे एक गाड़ी में तीन युवक बैठे हुए नजर आए। युवक संदिग्ध दिखाई देने पर पुलिस गश्ती वाहन के साथ उनके नजदीक पहुंची तो वे गाड़ी में भागने का प्रयास करने लगे। इस पर गश्ती वाहन को उनकी गाड़ी के आगे लगाकर उनको भागने से रोक लिया।
पुलिस जांच में उनके पास से एक देशी पिस्टल और तमंचा के साथ चार कारतूस बरामद हुए। हथियार मध्यप्रदेश और बिहार से खरीदकर लाने की बात सामने आई है। पकड़े गए राजेन्द्र सिंह के खिलाफ बीकानेर व जयपुर में हत्या, हत्या का प्रयास, लूट सहित अन्य धाराओं में 18, हरिओम के खिलाफ 11 और दानाराम के खिलाफ 5 आपराधिक प्रकरण दर्ज है।
ये हुए गिरफ्तार

d1.jpgबीकानेर निवासी पकड़े गए तीनों बदमाश हत्या व लूट के कई मामलों में फरार चल रहे थे। गिरफ्तार आरोपी राजेन्द्र सिंह उर्फ राजू सिंह बीकानेर स्थित सुभाषपुरा, दानाराम सिहाग बीकानेर के लूणकरणसर और हरिओम रामावत बीकानेर के कोलायत के रहने वाले हैं।

जयपुर में लूट की वारदात बना रहे थे

अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त रामसिंह शेखावत ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ में सामने आया कि वह बीकानेर में एक हत्या के मामले में वांछित चल रहे हैं। इनका पंजाब, हरियाणा की लॉरेंस गैंग से भी संबंध है। इन गैंग के जुड़े बदमाशों को जयपुर में अलग-अलग जगह पर रखकर फरारी कटवाने में सहयोग करते हैं। जयपुर में ये गिरोह लूट की योजना बना रहे थे। इसलिए ये रिंग रोड पर किसी से मिलने के लिए गए थे।
चौमूं और वैशाली में की थी वारदात

भांकरोटा थानाधिकारी रविंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि राजूसिंह ने चौमूूं और वैशालीनगर इलाके में फायरिंग की वारदात को अंजाम दिया था। इनमें इसकी गिरफ्तारी भी हुई थी। वह बीकानेर में कई गंभीर अपराधों में वांछित है। तीनों बदमाशों पर अवैध वसूली, रंजिश में फायरिंग जैसे कई मामले दर्ज हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीउदयपुर कन्हैयालाल हत्याकांडः कानपुर से आतंकी कनेक्शन, एनआईए की टीम जल्द जा कर करेगी छानबीनAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.