तीन माह पहले बिजली गिरने से हुई थी घायल, इस बार काल बनकर गिरी बिजली

रासीसर में हादसा : आकाशीय बिजली गिरने से किशोरी मनीषा की मौत, दोनों दिन थी अमावस्या
-आठ भाई-बहनों में थी सबसे बड़ी

By: jagmendra

Updated: 28 Nov 2019, 01:08 AM IST

नोखा. रासीसर के तालरिया का बास में मंगलवार रात आकाशीय बिजली एक परिवार पर कहर बनकर टूटी। इसे दुर्भाग्य ही कहें कि तीन माह पहले भी तालरिया बास में बिजली गिरी थी। तब इस परिवार की 16 वर्षीय किशोरी मनीषा चपेट में आकर घायल हो गई थी, लेकिन मंगलवार रात फिर आकाशीय बिजली गिरी और बालिका की जान चली गई।

आकाशीय बिजली गिरने से मौत जैसी घटनाएं कभी-कभी ही होती है, लेकिन इस हादसे से ऐसा लग रहा है जैसे आकाशीय बिजली मनीषा की मौत बनकर मंडरा रही थी। तीन महीने पहले जब बिजली गिरी उस दिन अमावस्या थी और मंगलवार को भी अमावस्या ही थी। हादसे के बाद पूरा परिवार सहमा हुआ है। इस घटना के बाद ग्रामीण अंचल में तरह-तरह के मिथक, कथाएं और किवदंतियां लोगों की जुबां पर हैं।

तब मकान क्षतिग्रस्त

मनीषा के पिता सीताराम बिश्नोई ने बताया कि तीन महीने पहले उनके मकान पर आकाशीय बिजली गिरी थी, तो बेटी मनीषा चपेट में आने से घायल होकर बेहोश हो गई थी। दो-तीन घंटे बाद उसे होश आया और सामान्य हो पाई। बिजली गिरने से मकान क्षतिग्रस्त हो गया था और घरेलू सामान व कपड़े आदि में आग लग गई थी। मंगलवार को मनीषा घर से दो किलोमीटर दूर खेत में काम कर रही थी। इस दौरान खेजड़ी के पेड़ पर बिजली गिरी, तो वह भी चपेट में आ गई। इससे मनीषा की मौके पर ही मौत हो गई। परिवार के लोग मनीषा को नोखा अस्पताल लेकर गए, लेकिन जान नहीं बच पाई।

हर काम में होशियार थी मनीषा

मनीषा के पिता सीताराम बिश्नोई ट्रक चलाते हैं। वे मंगलवार को ट्रक लेकर गुजरात गए हुए थे। फोन पर हादसे की सूचना मिलने पर पालनपुर से बुधवार सुबह चार बजे घर पहुंचे। सीताराम के छह बेटियां और दो बेटे हैं। इनमें मनीषा सबसे बड़ी थी। उसके बेटी मनीषा, सोनू, अनीषा, आइना, किरण, मोनिका और बेटा बजरंग व कृष्ण है। अभी अनीषा व आइना ननिहाल गई हुई हैं।

घटना महज संयोग

पुरानी कहावतों में आकाशीय बिजली विशेष जीव-जंतु पर गिरते की बातें मिलती है। इसका धार्मिक दृष्टि से विशेष पक्ष नहीं है। बिजली गिरने से बालिका की जान जाना दुखद घटना है। इस दिन अमावस्या होना महज संयोग था।

-आचार्य स्वामी रामानंद महाराज, मुकाम पीठाधीश्वर

jagmendra Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned