Tiddi Attack : टिड्डी नियंत्रण के लिए राजस्थान में 12 ड्रोन तैनात

Tiddi Attack : खरीफ फसलों की बुवाई जोर पकडऩे से पहले हरियाली के दुश्मन टिड्डियों का आतंक समाप्त कर किसानों की चिंता दूर करने के लिए राजस्थान, मध्यप्रदेश समेत देश के अन्य क्षेत्रों में टिड्डी नियंत्रण अभियान जोरों पर चल रहा है। इस अभियान में 12 ड्रोन तैनात किए गए हैं। जल्द ही हेलिकॉप्टर से भी छिड़काव शुरू करने की तैयारी है।

By: hanuman galwa

Published: 17 Jun 2020, 08:01 PM IST

टिड्डी नियंत्रण के लिए राजस्थान में 12 ड्रोन तैनात
किसानों को राहत देने के लिए हेलिकॉप्टर से छिड़काव

जयपुर। खरीफ फसलों की बुवाई जोर पकडऩे से पहले हरियाली के दुश्मन टिड्डियों का आतंक समाप्त कर किसानों की चिंता दूर करने के लिए राजस्थान, मध्यप्रदेश समेत देश के अन्य क्षेत्रों में टिड्डी नियंत्रण अभियान जोरों पर चल रहा है। इस अभियान में 12 ड्रोन तैनात किए गए हैं। जल्द ही हेलिकॉप्टरसे भी छिड़काव शुरू करने की तैयारी है।
केंद्रीय कृषि मंत्रालय की ओर से मिली जानकारी के अनुसार, टिड्डी दल राजस्थान, मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश में मौजूद हैं, जहां नियंत्रण अभियान चल रहा है। कृषि विशेषज्ञ बताते हैं कि फिलहाल खरीफ फसलों की बुवाई शुरू ही हुई है, इसलिए फसल को नुकसान का सवाल नहीं है, लेकिन यह हरियाली का दुश्मन है और जो भी हरियाली इनको मिलती है, उसे चट कर जाते हैं। वनस्पति संरक्षण, संगरोध एवं संग्रह निदेशालय में पदस्थापित उपनिदेशक डॉ. के.एल. गुर्जर ने बताया कि राजस्थान में इस समय टिड्डी दलों पर नियंत्रण के लिए 12 ड्रोन तैनात किए गए हैं और अगले सप्ताह तक छिड़काव के लिए एक हेलिकॉप्टर भी लगया जाएगा। कृषि मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, टिड्डी नियंत्रण के लिए क्षेत्रवार 11 नियंत्रण कक्ष स्थापित कर विशेष दलों की तैनाती की गई है। केंद्र सरकार ने टिड्डियों के नियंत्रण के लिए इंग्लैंड से 60 माइक्रोनैर स्प्रेयर खरीदा है। इनमें से 15 मशीनें आ चुकी हैं और बाकी अगले महीने तक आएंगी।

hanuman galwa Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned