scriptTour operators associations...Chief Minister Ashok Gehlot | पर्यटक लग्जरी कोचों को मोटर वाहन कर से मुक्त करने के लिए टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशंस ने जताया आभार | Patrika News

पर्यटक लग्जरी कोचों को मोटर वाहन कर से मुक्त करने के लिए टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशंस ने जताया आभार

locationजयपुरPublished: Mar 20, 2023 07:19:14 pm

Submitted by:

Rakhi Hajela

जयपुर, 20 मार्च। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) की ओर से हाल ही में घोषित बजट में पर्यटन विभाग (Department of Tourism) , राजस्थान एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स (राटो) Rajasthan Association of Tour Operators (RATO) और इंडियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स (आईएटीओ ) ( Indian Association of Tour Operators (IATO) ) से अधि$कत पर्यटक लग्जरी कोचों को मोटर वाहन कर से मुक्त करने का फैसला किया है।

पर्यटक लग्जरी कोचों को मोटर वाहन कर से मुक्त करने के लिए टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशंस ने जताया आभार
पर्यटक लग्जरी कोचों को मोटर वाहन कर से मुक्त करने के लिए टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशंस ने जताया आभार
जयपुर, 20 मार्च। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) की ओर से हाल ही में घोषित बजट में पर्यटन विभाग (Department of Tourism) , राजस्थान एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स (राटो) Rajasthan Association of Tour Operators (RATO) और इंडियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स (आईएटीओ ) ( Indian Association of Tour Operators (IATO) ) से अधि$कत पर्यटक लग्जरी कोचों को मोटर वाहन कर से मुक्त करने का फैसला किया है। टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशंस ने पत्र लिखकर पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह से 01 अप्रैल 2023 से आगे की अवधि के लिए पर्यटक कोचों इनबाउंड बिजनेस पर मोटर वाहन कर पर छूट की मांग की थी। जिसके बाद राज्य सरकार ने वर्तमान परिस्थिति और राटो की ओर से लगातार की जा रही मांग पर यह फैसला लिया।
राटो के अध्यक्ष महेंद्र सिंह राठौड़ ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार के इस फैसले से राज्य में न केवल पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा बल्कि राज्य के टूर ऑपरेटर्स को बड़ी राहत प्रदान करेगा। उन्होंने बताया कि पहले परिवहन विभाग के साथ राजस्थान पर्यटन विभाग ने 2015 और 2019 के बीच की अवधि के लिए मोटर वाहन कर पर 50 फीसदी छूट लागू की थी लेकिन कोविड महामारी के कारण अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन की रफ्तार धीमी पडऩे से पर्यटकों के लिए संचालित एयर कंडिशन्ड लग्जरी कोचों का संचालन भी ठप पड़ गया था। जिसका सीधा असर टूर ऑपरेटर्स पर पड़ रहा था और इसका खर्च वहन करना भी मुश्किल हो रहा था। एसोसिएशन के आग्रह पर सरकार ने परिस्थिति को समझते हुए इन वाहनों को कर से मुक्त करने का फैसला करके टूर ऑपरेटर्स को संजीवनी प्रदान की है।
राटो के अध्यक्ष महेंद्र सिंह राठौड़ के साथ-साथ राटो के चेयरमैन भीम सिंह,पूर्व अध्यक्ष कुलदीप सिंह चंदेला, महासचिव मोहन सिंह मेड़तिया, ईसी राजेन्द्र सिंह जोधा एफएचटीआर अध्यक्ष अपूर्व कुमार,आईएचएच अध्यक्ष रणधीर विक्रम सिंह, उपाध्यक्ष खालिद खान सहित एसोसिएशन के अन्य सदस्यों ने राज्य सरकार के इस कदम की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह का आभार जताया है।
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.