त्योहारी सीजन में जागी उम्मीद, पावणों से गुलजार होगा प्रदेश, देखें वीडियो

कोरोना काल में धीरे—धीरे पटरी पर लौट रहा पर्यटन

पिछले महीने 85 हजार से अधिक पर्यटक पहुंचे पर्यटन स्थलों पर

By: SAVITA VYAS

Published: 13 Oct 2020, 06:49 PM IST

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

जयपुर। कोरोना काल में बीते कई दिनों से शहर सहित प्रदेशभर का ठप पड़ा पर्यटन अब धीरे-धीरे परवान चढ़ने लगा है। ऐसे में अक्टूबर में त्योहारी और सर्दी का सीजन नजदीक आने के साथ प्रदेशभर में पर्यटन स्थलों पर पावणों की संख्या में भी और इजाफा होने की उम्मीद है।
हालांकि पहले की बात की जाए तो 40 प्रतिशत सैलानी ही प्रदेश का रूख कर रहे हैं। आने वाले समय में पर्यटन उद्योग में बढ़ोतरी होना तय है। इससे पर्यटन से जुड़े लाखों लोगों के जीविका में भी फायदा होगा। जुलाई-अगस्त के मुकाबले सितंबर में प्रदेश में पर्यटकों की संख्या 85 हजार से ज्यादा रही। हर साल जयपुर, जैसलमेर, उदयपुर, माउंटआबू, अलवर, जोधपुर, पुष्कर, चित्तौड़गढ़, सवाईमाधोपुर, बीकानेर और अजमेर में सबसे ज्यादा देशी-विदेशी पर्यटक यहां की सुंदरता को निहारने और घूमने पहुंचते हैं।

सोशल मीडिया पर भी कर रहे तस्वीर साझा

राजस्थान पर्यटन के लिहाज से सैलानियों के लिए आकर्षण का केंद्र रहा है। पर्यटन विभाग की ओर से सोशल मीडिया पर भी प्रदेश के प्रमुख पर्यटन स्थलों के बारे में रोचक जानकारी सहित खूबसूरत तस्वीरों को साझा किया जा रहा है। होटल-रेस्टोरेंट एसोसिएशन ऑफ राजस्थान के अध्यक्ष कुलदीप सिंह चंदेला ने बताया कि प्रदेश में 18 मार्च को सभी पर्यटन स्थल बंद रहे थे। इससे पर्यटन उद्योग को अरबों रुपए का नुकसान उठाना पड़ रहा है। साथ ही अब भी पर्यटन उद्योग पूरी तरह से परवान नहीं चढ़ पा रहा है। गाइड महेश शर्मा ने बताया कि त्योहारी सीजन में इसमें सुधार की उम्मीद है। बीते साल के मुकाबले होटल आदि भी कम बुक हुए हैं। जयपुर में सालभर में पांच लाख देशी-विदेशी पर्यटक पहुंचते हैं। वहीं प्रदेश में हर साल 40 लाख के आसपास सैलानी यहां पहुंचते हैं।


ऐसे समझें पूरी गणित

अनलॉक में 1 जून से 30 जून तक के पहले एक महीने में पर्यटन स्थलों पर रौनक गायब रही। गुलाबी नगर में कुल आठ स्मारक और संग्रहालयों पर एक महीने में महज 5269 पर्यटक तो प्रदेश के 24 स्मारक और संग्रहालयों में महज 3550 पर्यटक ही पहुंचे। जुलाई में पर्यटकों का आगमन भी कम रहा। अगस्त में मानूसन के मेघ मेहरबान होने के साथ ही पर्यटन स्थलों पर रौनक नजर आई। जुलाई के मुकाबले अगस्त में पर्यटकों की संख्या में तीन गुना से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई। जुलाई में प्रदेश में कुल 19,326 पर्यटक आए। इनमें से 12,665 जयपुर पहुंचे, जबकि 6661 में प्रदेश के अन्य पर्यटन स्थल पहुंचे। अगस्त में राजधानी में जहां 42 हजार 600 पर्यटक पहुंचें। वही राजधानी के बाहर के पर्यटन स्थलों पर यह संख्या 13 हजार 93 के पर्यटक आए। सितंबर में जयपुर के स्मारकों पर 57 हजार पर्यटक पहुंचे। वहीं राजधानी के बाहर के पर्यटन स्थलों पर 27 हजार 900 पर्यटक पहुंचे। प्रदेश में सितंबर में 84 हजार 835 पर्यटक पहुंचे। ऐसे में महीने दर महीने धीरे-धीरे सैलानी प्रदेश घूमने का रूख कर रहे हैं। अनुमान के मुताबिक अक्टूबर में यह संख्या सवा लाख के पार होगी। साथ ही त्योहारी सीजन भी शुरू होगा।

Corona virus

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned