पंचायत समिति बनाने के लिए सड़क पर उतरे व्यापारी, बाजार बंद

Deendayal Koli

Updated: 05 Aug 2019, 01:08:59 PM (IST)

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

जयपुर। panchayat committee demand : जहां एक तरफ उपखंड क्षेत्र में नई पंचायत समिति की मांग को लेकर तूंगा कस्बा आज भी बंद रहा, वहीं अब बांसखोह कस्बा भी बंद कर दिया है। दोनों ही कस्बों के लोग अपने-अपने क्षेत्र को पंचायत समिति बनाने की मांग कर रहे हैं। इस दौरान व्यापारियों ने बाजारों में दुकानें बंद रखी। जहां तूंगा कस्बे में पंचायत समिति बनाने को लेकर गली-मोहल्ले व छोटी मोटी दुकानें भी इसमें शामिल हो चुकी हैं। व्यापारियों ने बताया कि इस दौरान छोटी-मोटी 600 से अधिक दुकानें बंद रही। कस्बे में रैली निकालकर सरकार व प्रशासन के खिलाफ गुस्सा जाहिर किया। प्रशासन व सरकार को यह संदेश दिया कि तूंगा क्षेत्र पंचायत समिति बनाने के सभी मापदंड पूरे करता है इसलिए इसे तुरंत पंचायत समिति बनाई जाए। वहीं बांसखोह कस्बे के व्यापारी व जनप्रतिनिधि कस्बे को पूर्णतया बंद कर बस स्टैंड के पास मठ-मंदिर पर धरने पर बैठ गए हैं। साथ ही आपातकालीन सेवा में आने वाली मेडिकल दुकानें भी बंद हैं। वहीं कस्बे सहित क्षेत्र के लोग उपखंड अधिकारी को ज्ञापन देने के लिए दोपहर बाद कूंच करेंगे। बांसखोह में व्यापारियों व पूर्व प्रधान कन्हैयालाल मीना ने बताया कि करीब क्षेत्र में होने वाले रोज लाखों रुपए का व्यापार ठप रहेगा।

बस स्टैंड मठ-मंदिर पर दिया जा रहा धरना

उपखंड क्षेत्र के बांसखोह के बस स्टैंड के पास मठ-मंदिर में लोग धरने पर बैठे हैं। दोपहर बाद धरनार्थी बस्सी एसडीएम को ज्ञापन देने के लिए जाएंगे।

मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री से करेंगे मुलाकात

धरनार्थिर्यं ने बताया कि तूंगा को पंचायत समिति बनाने के लिए मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री से मुलाकात की जाएगी। इसके लिए धरनार्थियों को जिम्मेदारी सौंप दी गई है। उसके बाद लोग वापस धरने पर बैठ जाएंगे।

जब तक तूंगा को पंचायत समिति नहीं बना दी जाती है तब तक कस्बा व बाजार बंद रहेंगे। इसके लिए आज एक प्रतिनिधि मंडल मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री से मिलने के लिए गया है। - गिर्राज प्रसाद शर्मा, प्रवक्ता, व्यापार महासंघ तूंगा

बांसखोह को जब तक पंचायत समिति नहीं बनायी जाती है तब तक बासंखोह व बासंखोह के आसपास क्षेत्र पूर्णतया बंद रहेंगे। आज दोपहर बाद कस्बे व क्षेत्र के लोग एसडीएम को ज्ञापन सौपेंगे। - कन्हैयालाल मीना, पूर्व प्रधान, बांसखोह

 

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned