खत्म हुआ लोगों का इंतजार: इलेक्ट्रिक ट्रैक पर जयपुर से जल्द फर्राटा भरेंगी ट्रेन और मालगाड़ी

जयपुर से इलेक्ट्रिक ट्रैक पर ट्रेन दौडऩे का इंतजार अब खत्म होगा। सोमवार को बांदीकुई से ढिगावड़ा व बस्सी से कनकपुरा रेलवे स्टेशन के बीच इलेक्ट्रिक ट्रैक का कमिश्नर फोर रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) निरीक्षण किया जाएगा।

By: kamlesh

Published: 21 Nov 2020, 02:29 PM IST

जयपुर। जयपुर से इलेक्ट्रिक ट्रैक पर ट्रेन दौडऩे का इंतजार अब खत्म होगा। सोमवार को बांदीकुई से ढिगावड़ा व बस्सी से कनकपुरा रेलवे स्टेशन के बीच इलेक्ट्रिक ट्रैक का कमिश्नर फोर रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) निरीक्षण किया जाएगा। जिसके बाद जल्द जयपुर से दिल्ली और जयपुर से अजमेर के बीच इलेक्ट्रिक ट्रैक पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनें और मालगाडिय़ां दौड़ती नजर आएंगी। आगामी पंद्रह दिन में यह सौगात मिल सकती है।

रेलवे अधिकारियों ने बताया इलेक्ट्रिक ट्रैक पर ट्रेन चलाने की तैयारियां अंतिम चरण में है। इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रायल के बाद अब सीआरएस निरीक्षण को स्वीकृति मिल गई है। मुंबई से मुख्य संरक्षा आयुक्त आरके शर्मा, डीआरएम मंजूषा जैन समेत अन्य रेलवे अधिकारियों के साथ सोमवार को विशेष ट्रेन से दोपहर एक बजे जयपुर जंक्शन से रवाना होकर बांदीकुई पहुंचेंगे। वहां पूजा अर्चना के बाद निरीक्षण शुरू करेंगे।

अगले दिन सुबह आठ बजे स्पेशल ट्रेन से बस्सी पहुंचेंगे, फिर बस्सी से जयपुर यार्ड होते हुए कनकपुरा रेलवे स्टेशन तक जाएंगे। इस दौरान वह अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लेंंगे। सूत्रों का कहना है कि सीआरएस स्पेशल ट्रेन 100 किमी प्रति घंटा से अधिक की रफ्तार से दौड़ाने की तैयारी है। निरीक्षण में सभी विभागों के सिर्फ चुनिंदा अफसर ही शामिल रहेंगे।

रिपोर्ट आने के बाद शुरू होगा संचालन
रेलवे अधिकारियों ने बताया कि कनकपुरा से मदार और बांदीकुई से दिल्ली के बीच सीआरएस निरीक्षण हो चुका है। यह दोनों मार्ग ही अटके हुए थे। इनका निरीक्षण रिपोर्ट आने के बाद जयपुर से दिल्ली, अजमेर से जयपुर के बीच इलेक्ट्रिक ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned