परिदों पर आफत: अब तक ढाई हजार पक्षियों की मौत

11 जिलों में बर्ड फ्लू से पक्षियों की मौत की पुष्टि
आज 356 पक्षी प्रदेश भर में मृत पाए गए
257 कौवे, 16 मोर, 29 कबूतर और 54 अन्य पक्षी मृत मिले
प्रदेश में कुल मृत पक्षियों की संख्या हुई 2522
इनमें 1963 कौवे और 152 मोर शामिल
21 जिलों से 219 सैम्पल भेजे भोपाल
11 जिलों के 45 नमूने पॉजिटिव

By: Rakhi Hajela

Published: 09 Jan 2021, 10:05 PM IST

प्रदेश की राजधानी जयपुर सहित विभिन्न जिलों में परिंदों के मरने का सिलसिला लगातार जारी है। शनिवार को प्रदेश में 356 पक्षी मृत पाए गए। इनमें से 87 परिंदे राजधानी में मिले। अब तक प्रदेश में 2522 परिंदों की मौत हो चुकी है। अभी तक प्रदेश में किसी भी पोल्ट्री फॉर्म में फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है। हालांकि कोटा, बूंदी और बारां जिले में कुछ पोल्ट्री मृत मिली थी जिनके सैम्पल्स की रिपोर्ट आना बाकी हे। पशुपालन विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक करौली, उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, प्रतापगढ़ और करौली ऐसे जिले हैं जहां से पक्षियों के मरने की कोई रिपोर्ट नहीं मिली।

11 जिलों में संक्रमण की पुष्टि
प्रदेश के 11 जिलों में पक्षियों में बर्ड फ्लू के पहले की पुष्टि हो चुकी है। पशुपालन विभाग की ओर से 219 पक्षियों के सैम्पल भोपाल भेजे गए थे जिसमें से 45 पक्षियों की रिपोर्ट में वायरस मिला है। इसमें सवाई माधोपुर, जालौर, जैसलमेर, दौसा, जयपुर, हनुमानगढ़, चित्तौडगढ़़, बांसवाड़ा, झालावाड़, बारां और कोटा जिले शामिल हैं।
कहां कितनी मौत
पशुपालन विभाग से प्राप्त आकड़ों के आधार पर कोटा में आज 37, बारां में 22, झालावाड़ में 21, जयपुर में 87, भीलवाड़ा में 20, जोधपुर में 52, झुंझुनू में 18, बूंदी में 6, चित्तौड़ और कुचामन में तीन तीन, राजसमंद, बीकानेर, दौसा, बाड़मेर में दो दो चूरू और हनुमानगढ़ में सात सात, अलवर, सीकर, अजमेर, जैसलमेर, धौलपुर में एक एक, टोंक और पाली में आठ आठ, भरतपुर में 9, जालौर में पांच मृत पक्षी पाए गए।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned