नीदरलैंड्स के ट्यूलिप का नहीं बचा कोई कद्रदान

सामान्य तौर पर इन दिनों में नीदरलैंड्स से लाखों फूल पूरी दुनियाभर में निर्यात किए जाते हैं, जो कि फूलों की सबसे बड़ी मार्केट है। लेकिन इस समय यहां पर ट्यूलिप, गुलाब, गुलदाउदी और अन्य फूलों को नष्ट कर दिया जा रहा है क्योंकि कोरोनोवायरस की महामारी ने मांग को तबाह कर दिया है।

Kiran Kaur

25 Mar 2020, 06:21 PM IST

सामान्य तौर पर इन दिनों में नीदरलैंड्स से लाखों फूल पूरी दुनियाभर में निर्यात किए जाते हैं, जो कि फूलों की सबसे बड़ी मार्केट है। लेकिन इस समय यहां पर ट्यूलिप, गुलाब, गुलदाउदी और अन्य फूलों को नष्ट कर दिया जा रहा है क्योंकि कोरोनोवायरस की महामारी ने मांग को तबाह कर दिया है। चमकीले रंग के फूल आमतौर पर एक रोमांटिक दृश्य की पेशकश करते हैं लेकिन कोरोना की वजह से इनकी खूबसूरती जैसे फीकी पड़ गई हो क्यूंकि मार्केट में इनका कोई कद्रदान नहीं। फूलों के एक बड़े नीलामी घर रॉयल फ्लोराहोलैंड के प्रवक्ता मिशेल वैन शि ने कहा कि हमारे पास एकमात्र समाधान यह है कि हमने उन्हें नष्ट कर दें। यह वास्तव में पहली बार है जब हमें ऐसा करना पड़ रहा है। डच फूलों की यह नीलामी सौ से अधिक वर्षों से होती आ रही है और यह पहली बार है कि हम इतने संकट में हैं। रॉयल फ्लोराहोलैंड ने कहा कि नीदरलैंड्स के कुल वार्षिक उत्पादन में 70 से 80 प्रतिशत के बीच फूलों को नष्ट किया जा रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि यह एक ऐसे देश के लिए बड़ा झटका है जहां ट्यूलिप, पवनचक्कियों, चीज आदि की तरह ही यहां का राष्ट्रीय प्रतीक है। रॉयल एसोसिएशन ऑफ बुल प्रोड्यूसर्स की प्रमुख प्रिसका क्लीजन का कहना है कि कोरोनोवायरस प्रकोप के कारण दुनियाभर में दुकानों और व्यवसायों के बंद होने से नाटकीय परिणाम होंगे। हमने पहले कभी ऐसा कुछ नहीं देखा। पूरे यूरोप में कोरोना संकट के कारण अब फूलों की कोई मांग नहीं है, जो बेहद दुख की बात है। नीदरलैंड्स में ट्यूलिप के खेत पिछले कई वर्षों से पर्यटकों के लिए सेल्फी पॉइंट भी बन रहे थे। बता दें कि दुनियाभर में वसंत ऋतु में फूलों का विशालतम बागीचा नीदरलैंड में एम्सटर्डम के पास कोएकेनहोफ में है। 400 साल पहले यहां सेंट्रल एशिया से ट्यूलिप के पहले बीज पहुंचे।

Kiran Kaur Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned