scriptTwo sons of Sikar and Barmer martyred in Congo, Africa | पिता की सिल्वर जुबली के लिए सरप्राइज गिफ्ट तैयार कर रही थी बेटी... तिरंगे में लिपटे आए पिता... शॉक हो गए सब | Patrika News

पिता की सिल्वर जुबली के लिए सरप्राइज गिफ्ट तैयार कर रही थी बेटी... तिरंगे में लिपटे आए पिता... शॉक हो गए सब

दोनो शहीदों को विदा करने के लिए हजारों की संख्या में लोगों के साथ ही जन प्रतिनिधी और प्रशासनिक अफसर भी मौजूद रहे। दोनो की पार्थिव देह को पहले रविवार को दिल्ली लाया गया था और उसके बाद दिल्ली से सड़क मार्ग होते हुए बाड़मेर और सीकर भेजा गया था।

जयपुर

Updated: August 01, 2022 12:43:51 pm

जयपुर
अफ्रीका के कांगो में शहीद होने वाले राजस्थान के दो सपूतों को अंतिम विदाई देने के लिए आज कई गावों े हजारों लोग उमढ़ आए। भारत माता की जयकारों और वंदे मातरम के उद्घोषों के बीच दोनो जवानों को हजारों गाम्रीणों ने पलक पावड़े बिछाकर स्वागत किया और उसके बाद सैन्य सम्मान से उनको अंतिम विदाई दी गई। दोनो शहीदों को विदा करने के लिए हजारों की संख्या में लोगों के साथ ही जन प्रतिनिधी और प्रशासनिक अफसर भी मौजूद रहे। दोनो की पार्थिव देह को पहले रविवार को दिल्ली लाया गया था और उसके बाद दिल्ली से सड़क मार्ग होते हुए बाड़मेर और सीकर भेजा गया था।
barmer_pic_photo_2022-07-31_22-32-23.jpg

दो महीने पहले पंद्रह दिन के लिए लिए ही घर आए थे सांवलराम, पत्नी को कहा था कि जल्द ही लौटूंगा
दरअसल अफ्रीका के कांगो में मंगलवार को बाड़मेर के रहने वाले सांवलराम विश्नोई को गोली लग गई थी। उनके परिवार के सदस्यों का कहना था कि वे अपने साथियों के साथ अपने मोर्चे पर थे इस दौरान उपद्रवियों ने हमला कर दिया और गोलियां चला दी। सांवराल ने भी अपने साथियों के साथ उपद्रवियों का डटकर मुकाबला किया लेकिन गोलियां लगने से वे शहीद हो गएं। कांगो जाने से दो महीने पहले वे सिर्फ पंद्रह दिन के लिए अपने गांव आए थे। उनकी शादी सोलह साल पहले हुई थी। उनके दो बेटे हैं । पत्नी रुक्मणी से सांवलराम ने कहा था कि वे जल्द ही लौटेंगे इस बार ज्यादा दिन के लिए आएंगे। किसे पता था कि यह आखिरी मुलाकात होगी, पत्नी ने कहा अगर ऐसा पता होता तो उनको जाने ही नहीं देती।
पत्नी से बात कर रहे थे उस समय उपद्रवियों ने हमला कर दिया और जान ले ली
उधर सांवरालराम के साथी सीकर के हैड कांस्टेबल शिशुपाल भी मंगलवार को ही शहीद हुए। कांगो में चल रहे प्रदर्शन के दौरान अचानक हिसा हुई और इस हिंसा में उपद्रवियों ने फायरिंग कर दी और बम फेके। जिस समय यह प्रदर्शन चल रहा था उससे कुछ देर पहले ही शिशुपाल अपने परिवार से बात कर रहे थे। अचानक हमला हुआ तो उन्होनें भी अपने साथियों के साथ मोर्चा संभाला। बाद में उनकी जान चली गई। शिशुपाल के परिजनों ने उनके पिता को इसकी जानकारी ही नहीं दीं। गांव के लोगों को भी पिता से मुलाकात के लिए मना कर दिया। शिशुपाल के पिता को यही बताया गया कि वे घायल हुए हैं । देर रात पिता को सूचना दी गई कि उनकी जान चली गई। तब से पिता बेसुध हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Jammu Kashmir: कश्मीर में एक और बिहारी मजदूर की हत्या, बांदीपोरा में आतंकियों ने मोहम्मद अमरेज को मारी गोलीआज से वैक्सीनेशन सेंटर में उपलब्ध होंगे कॉर्बेवैक्स टीके, जानिए दूसरी डोज के कितने महीने बाद लगेगाGujarat News: जामनगर के होटल में लगी भयानक आग, स्टाफ सहित 27 लोग थे मौजूद, सभी सुरक्षितत्रिपुरा कांग्रेस विधायक सुदीप रॉय बर्मन पर जानलेवा हमला, गंभीर रूप से हुए घायलSCO समिट में पीएम मोदी के साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की हो सकती है बैठकबांदा में यमुना नदी में डूबी नाव, 20 के डूबने की आशंकाIND vs ZIM: BCCI ने शिखर धवन को हटा जिम्बाब्वे दौरे के लिए केएल राहुल को बनया कप्तानबिहारः 16 अगस्त को महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार, 24 को फ्लोर टेस्ट, सुशील मोदी के दावे को नीतीश ने बताया बोगस
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.