यहां हैं दो स्टेट हाईवे, दोनों बदहाल

यहां हैं दो स्टेट हाईवे, दोनों बदहाल

Abhishek Sharma | Updated: 03 Feb 2016, 11:54:00 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

क्षेत्र के विकास के लिए सड़कें पहली सीढ़ी हैं। जब सड़कें क्षतिग्रस्त हों तो विकास की बात करना बेमानी है। यहां बस्सी उपखण्ड के तूंगा कस्बे से होकर गुजर रहे स्टेट हाईवे नं. 2 व 24 बदहाल होने से क्षेत्र के विकास पर ग्रहण लग रहा है। व्यापारी कस्बा होने के कारण यहां से दिनभर वाहनों का आना-जाना रहता है, लेकिन दोनों स्टेट हाईवे जगह-जगह से क्षतिग्रस्त होने से व्यापार प्रभावित हो रहा है। वहीं, लोगों का सफर करना भी मुश्किल हो गया है।

क्षेत्र के विकास के लिए सड़कें पहली सीढ़ी हैं। जब सड़कें क्षतिग्रस्त हों तो विकास की बात करना बेमानी है। यहां बस्सी उपखण्ड के तूंगा कस्बे से होकर गुजर रहे स्टेट हाईवे नं. 2 व 24 बदहाल होने से क्षेत्र के विकास पर ग्रहण लग रहा है। व्यापारी कस्बा होने के कारण यहां से दिनभर वाहनों का आना-जाना रहता है, लेकिन दोनों स्टेट हाईवे जगह-जगह से क्षतिग्रस्त होने से व्यापार प्रभावित हो रहा है। वहीं, लोगों का सफर करना भी मुश्किल हो गया है।
जयपुर जिले के विकसित कस्बों की पंक्ति में शुमार तूंगा कस्बे में दौसा से कुचामन सिटी स्टेट हाईवे नं. 2 व बस्सी से भाड़ौती स्टेट हाईवे नं. 24 का संगम होता है। दोनों स्टेट हाईवे की सड़कों पर चलना किसी खतरे से कम नहीं है। जगह-जगह गड्ढों से रोडिय़ां निकल आई हैं, जिससे आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती हैं। यहां से रामगढ़-पचवारा, लालसोट, गंगापुर, सवाई माधोपुर, खण्डार, करौली, ग्वालियर, इन्दौर, भोपाल, दौसा, जयपुर, कोटखावदा, चाकसू, निवाई-टोक आदि स्थानों के लिए प्रतिदिन बड़ी संख्या में यात्री वाहन व मालवाहन आते-जाते हैं, लेकिन बस्सी से तूंगा व दौसा से चाकसू वाया तूंगा स्टेट हाईवे की खस्ताहाल सड़कों के कारण वाहन रेंग-रेंग कर चलते हैं।
व्यापारियों को नुकसान
तूंगा में खेती-बाड़ी, दूध व सब्जी का बड़ा व्यापार होता है। यहां से खेती के लिए पाइप, मोटर, सबमर्सिबल आदि का दौसा, लालसोट, चाकसू, लवाण, कोटखावदा आदि स्थानों पर सप्लाई होता है। पहले दोनों हाईवे की सड़कें ठीक थीं तो बड़े वाहनों से माल का परिवहन होता था, जिससे समय व धन की बचत होती थी। वर्तमान में जगह-जगह से टूटी सड़कों से छोटे वाहनों से माल का परिवहन किया जा रहा है, जिसमें धन अधिक खर्च हो रहा है। ऐसे में व्यापारियों के व्यवसाय पर असर पड़ रहा है।
नए वाहन हो रहे जल्द खराब
हाईवे पर कई जगह डामर तक गायब हो चुका है। दोनों हाईवे पर नए वाहन कुछ समय चलने के बाद खराब हो जाते हैं और मेंटिनेंस मांगने लग जाते हैं। टायर फटना और पंक्चर होना आए दिन की बात है। बदहाल सड़कों के कारण पिछले एक वर्ष में कई लोग मौत का शिकार भी हो चुके हैं। क्षेत्र के लोग व जनप्रतिनिधि लम्बे समय से सरकार से हाईवे की स्थिति सुधारने की मांग कर रहे हैं, लेकिन सरकार इस तरफ ध्यान नहीं दे रही है।
इन कस्बों के लोग परेशान
दौसा से कुचामन सिटी स्टेट हाईवे नं. 2 पर बसे लवाण, भूड़ला, माधोगढ़, अणतपुरा, तूंगा, लालपुरा, बल्लूपुरा, तूंगी, माधोपुरा, हनिरायणपुरा, रूपाहेड़ी, गोडकाबास, कोटखावदा और जयपुर से गंगापुर स्टेट हाईवे नं. 24 पर बसे बस्सी, टोडा, लालगढ़, हाथीपुरा, गढ़, दुबली, दौली, गुमानपुरा, तूंगा, हिम्मतपुरा, अणतपुरा, सावलियावाला, प्रहलादपुरा, बासबड़वा, सिन्दसोली, सोन्ड आदि गांव-कस्बों के लोगों को बदहाल सड़कों के कारण परेशानी उठानी पड़ रही है।
स्टेट हाईवे नं. 24 के निर्माण के लिए राशि स्वीकृत होने वाली है। दो माह में इसका निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। स्टेट हाईवे नं. 2 को सरकार ने राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित कर दिया है। यह सड़क दौसा से तूंगा होते हुए फलौदी तक 340 किलोमीटर तक बनेगी। इसका बजट अप्रेल में आ जाएगा।
गोरधन मीना, सहायक अभियंता, सार्वजनिक निर्माण विभाग, बस्सी
जयपुर से गंगापुर वाले स्टेट हाईवे की हालत तूंगा क्षेत्र में बहुत खराब हो रही है। मुख्यमंत्री से मिलकर एक-दो माह में इसके निर्माण की राशि स्वीकृत करवाई जाएगी।
उमाकांत शर्मा, सरपंच, तूंगा

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned